चाहे जो हो जाये जदयू में नहीं जाएंगी पुतुल कुमारी, समर्थकों के साथ बैठक कर राजनीतिक भविष्य पर की चर्चा - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, 13 September 2020

चाहे जो हो जाये जदयू में नहीं जाएंगी पुतुल कुमारी, समर्थकों के साथ बैठक कर राजनीतिक भविष्य पर की चर्चा

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui) : बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी घटनाक्रम उफान पर है. इस बीच 7 सितंबर की देर शाम बांका की पूर्व सांसद पुतुल कुमारी गिद्धौर स्थित अपने आवास पहुंचीं. यहां उन्होंने 8 सितंबर को जमुई जिला एवं बांका लोकसभा क्षेत्र के अपने समर्थकों के साथ लाल कोठी में बैठक की. इस बैठक में उन्होंने अपनी राजनीतिक भविष्य को लेकर चर्चा की और समर्थकों से सुझाव मांगे. जल्द ही वे किसी राजनीतिक दल से जुड़कर विधानसभा चुनाव के मैदान में उतरेंगी. बैठक में समर्थकों ने सर्वसम्मति से आगे के निर्णय लेने के लिए उनपर विश्वास जताया.

यूँ तो बैठक में मीडिया की एंट्री पर रोक थी, लेकिन भीतरखाने से gidhaur.com को मिली जानकारी के अनुसार पुतुल कुमारी जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार से बेहद नाराज हैं. उन्होंने तो यहां तक कह दिया है कि चाहे जो हो जाये वो जदयू में नहीं जाएंगी.
पुतुल कुमारी पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. दिग्विजय सिंह की पत्नी हैं. वे दिग्विजय सिंह के निधन के बाद वर्ष 2010 में हुए उपचुनाव में जीतकर लोकसभा पहुंचीं थीं. वर्ष 2014 में भाजपा के टिकट पर लड़ी, लेकिन हर गईं. पुनः वर्ष 2019 में भाजपा ने उन्हें टिकट नहीं दिया तो निर्दलीय ही चुनावी मैदान में उतरीं लेकिन फिर हार गईं.

बताया गया कि इस बैैैठक में पुुुतुल कुमारी की बेटी अर्जुन  अवार्ड  विजेता सुश्री श्रेयसी सिंह भी मौजूद रही. बीते दिनों मीडिया चर्चा हुई कि पुतुल कुमारी राजद जॉइन कर रही हैं. इसपर भी समर्थकों ने अपने राय रखे. पुतुल कुमारी जदयू के प्रति आक्रामक रुख अख्तियार की हुई हैं. उनका कहना है कि जदयू ने दिग्विजय सिंह को वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में धोखा दिया था और उनका टिकट काटकर किसी और को दे दिया था. पुनः 2019 में जदयू के इशारे पर बांका से पुतुल कुमारी का भी टिकट काटा गया. ऐसे में जदयू के साथ जाना उनके लिए संभव नहीं है. बैठक में पुतुल कुमारी ने अपने समर्थकों को जानकारी दी है कि राजद के अलावा लोजपा एवं भाजपा के कई नेताओं ने भी पार्टी में शामिल होने के लिए संपर्क किया है. वे किस पार्टी में शामिल होंगी इसपर जल्द ही फैसला किया जाएगा. श्रेयसी सिंह के विधानसभा चुनाव लड़ने की बात पर उन्होंने कहा कि इस बारे में श्रेयसी खुद फैसला लेंगी. 

Post Top Ad