बड़ी खबरें

लक्ष्मीपुर : सरकार के खिलाफ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने निकाला विरोध मार्च



Lakshmipur News (राजीव कुमार बर्णवाल) :-

  प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन
(Private School & Children welfare Association) के  बैनर तले प्रखंड भर के नीजि स्कूलों के संचालकों  व प्रबंधकों की ओर से प्रखंड मुख्यालय में विरोध मार्च निकाला गया। विरोध मार्च  का नेतृत्व एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष लक्ष्मण झा (President Lakshman Jha) ने किया। विरोध मार्च में स्कूल के संचालकों ने पूरे प्रखंड मुख्यालय का भ्रमण किया और अंत में प्रखंड सह अंचल कार्यालय के समक्ष  समापन समारोह में  तब्दील हो गया।इस मौके पर जिलाध्यक्ष ने कहा कि 14 मार्च 2020 से देश भर  के शिक्षण संस्थान बंद हैं। इसमें सबसे बूरा हाल निजी स्कूलों की है। इसके संचालकों व इसमें पढाने वाले शिक्षकों के परिवार की हालत दयनीय है। संचालक व शिक्षक तथा गैर शिक्षकेतर कर्मी भुखमरी के कगार पर खड़े  हैं। उनके पास आमदनी का कोई जरिया नहीं है। सरकार का नजरिया नीजि स्कूलों के प्रति सही नहीं है। सबकुछ जानते हुए भी  सरकार का नजरिया नीजि स्कूलों के प्रति सही नहीं है।सरकार नीजि स्कूलों के तबाही के मंजर को हाथ पर हाथ धरे देख रही है। सरकार नीजि स्कूलों के संपदा को चुनाव सहित अन्य कार्यों  में उपयोग करती हैं। चुनाव में नीजि स्कूलों के वाहनों का उपयोग किया जाता है।कोविड19 के विरुद्ध  लडाई में सरकार ने नीजि स्कूलों के भवनों को क्वारेंटाइन सेंटर के रूप अपने धड़ल्ले से प्रयोग किया है। इसके बावजूद आज जब नीजि स्कूलों के संचालक व शिक्षक भुखमरी के कगार पर खड़े हैं तो सरकार चुप्पी साधे हुए है। उन्होंने कहा कि एक तरफ सरकार जहां कोरोना संक्रमण के दौर में भी सरकारी स्कूलों के बच्चों को मुफ्त राशन पोशाक व क्षात्रवृति व पुस्तकें तक की राशि उपलब्ध करायी है लेकिन नीजि स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब बच्चों को कुछ भी मुहैया नही कराया गया।सरकार की शिक्षा नीति नीजि स्कूलों के विरुद्ध है।एसोसिएशन के सचिव व होली मिशन स्कूल के निदेशक एस पीटर ने कहा कि सरकार नीजि स्कूलों को पनपने  देना नही चाहती है।राज्य  सरकार के निर्देश पर नीजि स्कूलों में पढाए गए 25 फीसदी गरीब तबके के बच्चों का फीस सरकार द्वारा पिछले तीन साल से नही दिया गया है। अगर सरकार अपनी दोहरी नीति से बाज नहीं आती तो सरकार के विरुद्ध चरणबद्ध तरीके से आंदोलन किया जाएगा । इस मौके पर एस एस वी एम स्कूल के प्राचार्य अमर साह, एसोसिएशन के उपाध्यक्ष अमर सिंह, संत  थामस स्कूल के निदेशक मुरारी सिंह, न्यू पाराडाइज स्कूल दिग्घी के अनुज कुमार तिवारी सहित कई स्कूलों के संचालक व शिक्षक मौजूद रहे।

No comments