Header Ad

header ads

जमुई : खैरमा पहुंची साईकिल यात्रा की टीम, पौधरोपण कर दिया संरक्षण पर बल



जमुई (Jamui) :

खुशियां हो या गम, आओ एक पौधा जरूर लगाए हम के नारों के साथ साईकिल यात्रा एक विचार मंच के सदस्यो का समूह अपने रविवारीय यात्रा के क्रम में लोगो को पेड़ के महत्व पर अपील की गई की पर्यवारण संरक्षण से ही हम अपने आने वाले कल को सुनहरा बना सकते है। सदस्यों का समूह द्वारा जमुई प्रखण्ड परिसर सेनगर परिषद के खैरमा तक साईकिल यात्रा की गई। इस अवसर पर खैरमा में ग्रामीणों के सहयोग से खेल के मैदान परिसर में 62 पौधा रोपण कर जंगली कटीले झाड़ी से घेरा बंदी कर पौधा रोपण और उसके संरक्षण पर बल दिया गया। 



इस मौके पर सदस्य शैलेश भारद्वाज ने बताया की हमलोग खुशी के अवसर पर जैसे बच्चों के जन्म दिन, विवाह, त्यौहार या अन्य खुशी के अवसर पर पेड़ लगाने चाहिए और अपने पर्यावरण को संरक्षित करना चाहिए। पेड़-पौधे आदिकाल से मनुष्य जीवन व भारतीय संस्कृति का अटूट हिस्सा रहे है। 


सदस्य अजीत कुमार ने बताया की पेड़ो के महत्व की जानकारी देते हुए बताया की वैज्ञानिकों के अनुसार पीपल एकमात्र ऐसा वृक्ष है जो 24 घंटे आक्सीजन ही छोड़ता है । हिंदू धर्म में पीपल वृक्ष का बहुत महत्व है। हिंदू धर्म में पीपल का वृक्ष प्रात: पूजनीय माना गया है। 


मौके पर जीविका के जिला स्वास्थ्य प्रबंधक शेष नाथ राय ने लोगो को अपने को स्वास्थ्य रखने के लिए एकमात्र उपाय अपने आप को पौधा के नजदीक रहने की सलाह दी इसके लिए जहाँ भी जगह रहे वहाँ छोटे बड़े पौधा लगा के अपने को स्वस्थ रख सकते है। इस अवसर पर मंच के सदस्य विवेक कुमार, शैलेश भारद्वाज, अजित कुमार, शेषनाथ राय, शेखर कुमार, हरेराम कुमार, सचिराज पद्माकर, बंटी कुमार, आकाश कुमार ठाकुर, सुधांशू कुमार, सहित खैरमा ग्राम के पंकज कुमार, सिद्धार्थ सिन्हा, आनंद सिंह, रोहित कुमार, रोहित शेखर, विवेक कुमार, रिशु कुमार, आनंद कुमार सिंह, सहित कई ग्रामीण उपस्थित थे।