जमुई बना बिहार का 19वां 'स्मोक फ्री डिस्ट्रिक्ट' , डीएम ने की घोषणा - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Saturday, 5 September 2020

जमुई बना बिहार का 19वां 'स्मोक फ्री डिस्ट्रिक्ट' , डीएम ने की घोषणा

 



>> सार्वजनिक स्थानों और सरकारी दफ्तरों में तम्बाकू सेवन करने वाले होंगे दण्डित

Jamui (News Desk) | Abhishek Kr. Jha :- कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में आयोजित कार्यक्रम में शनिवार को जमुई जिले को राज्य का 19वां धूम्रपान मुक्त जिला (Smoke Free District) घोषित किया गया। इसको लेकर जिला तंबाकू नियंत्रण समन्वयक समिति के बैठक की अध्यक्षता कर रह जिला पदाधिकारी धर्मेंद्र कुमार (jamui DM Dharmendra Kumar) ने धूम्रपान मुक्त घोषणा समारोह का आयोजन किया। समारोह में जिले के सभी वरीय पदाधिकारियों द्वारा धूम्रपान मुक्त घोषणापत्र पर हस्ताक्षर किया गया तथा जिलाधिकारी द्वारा सम्पूर्ण जिले को धूम्रपान/तम्बाकू मुक्त बनाए रखने की अपील की गई।


तम्बाकू नियंत्रण हेतु राज्य सरकार की तकनीकी सहयोगी संस्था सोशियो इकोनॉमिक एण्ड एजुकेशनल डेवलपमेंट सोसाईटी (सीड्स) के कार्यपालक निदेशक दीपक मिश्रा ने पावर पॉइंट प्रजेंटेशन (Power Point Presentataion) के माध्यम से बताया कि राज्य सरकार एवं सीड्स के द्वारा संयुक्त रूप से राज्य के सभी 38 जिलो में चलाए जा रहे तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत तम्बाकू नियंत्रण अधिनियम कोटपा 2003 की विभिन्न धाराओ के अनुपालन की स्थिति जानने हेतु राज्य स्वास्थ्य समिति (State Health Society) के द्वारा समय समय पर स्वतंत्र एजेंसी से अनुपालन सर्वेक्षण कराया जाता है, तथा उस अनुपालन प्रतिवेदन के आधार पर COTPA 2003 की धारा 4 (सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान पर प्रतिबंध) के अनुपालन की बेहतर स्थिति के अनुसार जिलों को धूम्रपान मुक्त घोषित किया जाता है | उन्होंने बताया कि धूम्रपान मुक्त के तय मानको के आधार पर जमुई सहित राज्य के 6 जिलों को धूम्रपान मुक्त जिला घोषित करने निर्णय किया गया। जमुई जिले में कोटपा की धारा 4 का अनुपालन प्रतिशत 93.6% पाया गया है।


[जिलेवासियों से डीएम ने की अपील ] :-

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला पदाधिकारी ने समस्त जिला वासियों से अपील करते हुए कहा की धूम्रपान के बाद अब हमलोगों को जिले को तम्बाकू मुक्त जिला बनाने की मुहिम शुरू करनी है, ताकि हमारी आने वाली पीढ़ियों को तम्बाकू के दुष्प्रभावों से बचाया जा सके। जिला पदाधिकारी ने तम्बाकू नियंत्रण हेतु जिले में गठित त्रिस्तरीय छापामार दस्ते के सभी सदस्यों को शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज के अंदर अवस्थित सभी तम्बाकू उत्पाद बेचने वाले दुकानदारों को हटवाते हुए नियमित रूप से छापामारी करने का निर्देश दिया।


जमुई जिला को स्मोक फ्री डिस्ट्रिक्ट घोषित करने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए डीएम ने आम जनता, शैक्षणिक संस्थानों, सहयोगी संस्था सीड्स, मीडियाकर्मी, व अधिकरियों को धन्यवाद का पात्र बताया है। डीएम ने कहा अब जमुई जिले को तंबाकू मुक्त जिला बनाने का अभियान शुरू होगा। वहीं, डीएम ने जिलेवासियों से इस मुहिम में सहयोग की अपील की।


[ अधिकारी ने भी की अपील]

इधर, तम्बाकू नियंत्रण के जिला नोडल पदाधिकारी डॉ विमल कुमार चौधरी , एवं सीएस विजयेन्द्र सत्यार्थी ने संयुक्त रूप से जिले में की जा रही गतिविधियों की जानकारी देते हुए तम्बाकू व धूम्रपान के दुष्प्रभाव पर प्रकाश डाला। इसके बाद अपने सम्बोधन में एसपी पी. के. मण्डल ने कहा कि धूम्रपान मुक्त जिला घोषित होने के बाद अब जिला वासियों की जिम्मेवारी और बढ़ जाएगी। उन्होंने सभी पुलिस कर्मियों को तम्बाकू सेवन से दूर रहने की अपील की है साथ ही सभी थानों को तम्बाकू मुक्त क्षेत्र बनाने की अपील की।


समारोह में उप विकास आयुक्त आरिफ अहसन, डीपीएम सुधांशु लाल के अलावे बीडीओ , थाना अध्यक्ष व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।



Post Top Ad