आत्मनिर्भर भारत और कृषि द्वारा राम राज्य की ओर अग्रसर भाजपा : मनीष पांडेय - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, 9 August 2020

आत्मनिर्भर भारत और कृषि द्वारा राम राज्य की ओर अग्रसर भाजपा : मनीष पांडेय


गिद्धौर/जमुई : आत्मनिर्भर भारत के माध्यम से केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र से रक्षा के क्षेत्र तक रामराज्य की ओर अग्रसर है। आज पीएम किसान निधि का छट्ठा किस्त साढे आठ करोड़ किसानों के खाते में सीधे दो-दो हजार रूपये डाल दिया गया। सरकार के प्रयास से कृषि के क्षेत्र में 'एक देश एक मंडी' का अभियान जो पिछले 7 वर्षों से चलाया जा रहा था,अपने परिणाम तक पहुंच रहा है। उक्त बातें भारतीय जनता पार्टी बिहार प्रदेश प्रेस पैनल सदस्य मनीष कुमार पांडेय ने कही।

उन्होंने कहा कि अब किसानों के पास अनेक विकल्प हैं। ई-नाम के माध्यम से किसान अपने फसल का उचित सौदा कर सकते हैं। गांव-गांव में बेहतर भंडारण की योजना है जिस पर लगातार काम चल रहा है। साढे तीन हजार कृषि स्टार्टअप को मदद पहुँचायी जा रही है। सभी राज्यो में किसान उत्पादक समूह (FPO)बनाने की योजना है।

मनीष पांडेय ने बताया कि एक लाख करोड़ रूपया कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए देकर सरकार ने कृषि के क्षेत्र में क्रांति का आगाज किया है। इस एक लाख करोड़ रुपए के एग्री इंफ्रा फंड का इस्तेमाल गांवों में कृषि क्षेत्र से जुड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में किया जाएगा। इस फंड से कोल्ड स्टोर, वेयरहाउस, साइलो, ग्रेडिंग और पैकेजिंग यूनिट्स लगाने के लिए लोन दिया जाएगा। इस फंड के तहत 10 साल तक वित्तीय सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इस फंड से खेती से जुड़े प्रोजेक्ट्स पर काम किया जाएगा। इस फंड को जारी करने का उद्देश्य गांवों में निजी निवेश और नौकरियों को बढ़ावा देना है। किसानों के फसलों की ठुलाई हेतु देश की पहली 'किसान रेल' महाराष्ट्र और बिहार के बीच में शुरु हो चुकी है।

उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने भी सुनिश्चित किया कि किसान की उपज की रिकॉर्ड खरीद हो जिससे पिछली बार की तुलना में करीब 27 हज़ार करोड़ रुपए ज्यादा किसानों की जेब में पहुंचा है। ये जितने भी कदम उठाए जा रहे हैं, इनसे 21वीं सदी में देश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था की तस्वीर भी बदलेगी, कृषि से आय में भी कई गुणा वृद्धि होगी।
मनीष ने जानकारी दी कि पिछले सात वर्षो में नीम कोटेड यूरिया, स्वायल हेल्थ कार्ड, फसल बीमा योजना, किसान सम्मान निधि आदि के माध्यम से किसानो की लम्बे समय से टूटी कमर को राहत पहुंचाने का कार्य किया है।हाल में लिए गए हर निर्णय आने वाले समय में गांव के नज़दीक ही व्यापक रोज़गार तैयार करने वाले हैं।
आने वाले दिनों में केन्द्र और बिहार की डबल इंजिन की सरकार मिलकर आत्मनिर्भर भारत मे अग्रिम पंक्ति पर बिहार के किसान रहें, इसी योजना पर कार्य हो रहा है।

साथ ही भाजपा बिहार प्रदेश प्रेस पैनल सदस्य मनीष पांडेय ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार की जनता का पूर्ण विश्वास एनडीए गठबंधन को मिलेगा और एक बार पुनः नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार बनेगी।

Post Top Ad