Header Ad

header ads

जीविका कैडर संघ के प्रदेश अध्यक्ष बोले , मांग पूरी होने तक हर सप्ताह फूंकेंगे CM का पुतला, तेज होगा आंदोलन


Jamui News (जमुई) :- मंगलवार को बिहार प्रदेश जीविका कैडर संघ की राज्य स्तरीय वर्चुअल बैठक आयोजित की गई, जिसमें बिहार के लगभग सभी जिला अध्यक्षों एवं प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।


 इस बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि आंदोलन को और अधिक तेज करते हुए अब हरेक सप्ताह बिहार के सभी जिलों के प्रखंडों में मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया जाएगा। वहीं संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जीविका में कार्यरत कैडरों को सम्मानजनक मानदेय और सामाजिक सुरक्षा का लाभ नहीं देना सरकार की मजदूर विरोधी नीति को दर्शाता है। एक तरफ सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए बड़ी-बड़ी बातें करती है दूसरी तरफ जीविका में कार्यरत लाखों गरीब जीविका दीदियों को हजार- दो हजार में काम करने पर मजबूर कर रही है। यह बंधुआ मजदूरी प्रथा की याद दिलाता है। इसे काला कानून कहा जाए तो कहीं से कम नहीं होगा। वही बैठक को संबोधित करते हुए संघ की उपाध्यक्ष भारती कुमारी ने कहा कि नीतीश कुमार के मुख से महिला सशक्तिकरण की बात करना शोभा नहीं देता है। सरकार महिला सशक्तिकरण नहीं बल्कि महिलाओं का शोषण कर रही है। सरकार द्वारा जीविका कैडर को सम्मानजनक मानदेय देना चाहिए। वही, बैठक को प्रदेश महासचिव विवेक कुमार यादव ने कहा कि सरकार अगर जीविका कैडर संघ के 10 सूत्री मांगों को नहीं मानती है तो आने वाले विधानसभा चुनाव में संघ मुंहतोड़ जवाब देगा और नीतीश कुमार को सत्ता से बेदखल करने का काम करेगी। 

बैठक को प्रदेश उपाध्यक्ष सुमन झा, जितेंद्र शर्मा, प्रवीण कुमार पंकज, नरेंद्र कुमार प्रदेश सचिव कंचन कुमारी, सुनील जायसवाल, संघ की नेत्री नयना यादव, अनूपमा कुमारी, रीमा कुमारी ने भी संबोधित किया। बैठक में हड़ताल जारी रखते हुए आंदोलन को और अधिक तेज करने, संघ का विस्तार एवं मजबूत करने का निर्णय लिया गया। बैठक में चंदन भारती, दीपक कुमार, कविता कुमारी, विकाश कुमार, मनीष कुमार, संतोष पासवान, रेखा कुमारी, सत्येंद्र कुमार, शोभा कुमारी, प्रमोद कुमार, सफीउल्लाह अंसारी, उपेंद्र कुमार, मनोरथ कुमार, कामता प्रसाद, संजीव कुमार, ललिता देवी सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।