बड़ी खबरें

देश के शैक्षणिक विकास में सहायक होगी नई शिक्षा नीति : शैलेश भारद्वाज





जमुई (Jamui) : नई शिक्षा नीति (New Education Policy) आने वाले शैक्षणिक वर्ष के लिए मील का पत्थर साबित होगा। प्रमाण पत्र देने की फैक्टरी बन चुकी भारत (India) के शैक्षणिक संस्थानों (Educational Institutions) को पुर्नजीवित करने हेतु सरकार ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पर जोड़ दिया है। रिक्त पड़े शिक्षकों के पद पर बहाली होने से परिसर में शैक्षणिक माहौल का निर्माण होगा साथ ही बेरोजगारी दूर करने में भी नई शिक्षा नीति सहायक होगी। यह बातें मुंगेर यूनिवर्सिटी (Munger University) सीनेट सदस्य शैलेश भारद्वाज (Shailesh Bharadwaj) ने कही।

उन्होंने कहा कि शिक्षा का अधिकार अठारह वर्ष तक होने से हर तबके के छात्रों को लाभ होगा। बीएड (B. Ed) के प्रारूप में बदलाव से गुणवत्तापूर्ण शिक्षकों की बहाली होगी। मुंगेर विश्वविद्यालय के सभी छात्र छात्राओं को हार्दिक बधाई।

No comments