Header Ad

header ads

गिद्धौर : श्रावणी मेले पर कोरोना का ग्रहण, लाखों के कारोबार का लगा बट्टा

Jamui News ( अभिषेक कुमार झा ) :- 

कोरोना के इस काल में विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले पर संशय के बादल मंडराने लगे हैं।  श्रावण माह में भी जारी कोरोना के आतंक से गिद्धौर के व्यवसायियों के रोजगार पर ग्रहण लगता नजर आ रहा है।


यहां यह बता दें कि विश्व प्रसिद्ध मेले में प्रतिदिन डेढ़ से दो लाख श्रद्धालु प्रतिदिन पैदल चलकर सुल्तानगंज से देवघर पहुंच कर जल अर्पित करते हैं। एनएच होने के कारण इस बीच गिद्धौर से होकर सैंकड़ों वाहनों का रोजाना आवागमन होता है। इसको लेकर इसी मार्ग में कांवरिया भक्तों के लिए कई प्रकार के व्यवसाय खासकर होटल, चाय, पानी इत्यादि की दुकानें बड़ी संख्या में लगाए जाते हैं।
जमुई जिले के  जानकारों की माने तो कांवरिया के इस पथ में हर वर्ष तकरीबन 50 हजार लोग प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से स्वयं रोजगार का प्रबंध करते हैं। रास्ते मे पड़ने वाले खाली और बंजर जमीन का भी किराया हजारों में हो जाता है। पर कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सरकारी निर्देश पर श्रावणी मेला पर प्रतिबंध लगना जमुई जिले में लाखों रुपये के कारोबार को बट्टा लगा दिया है।