बड़ी खबरें

15 अगस्त को भारत लॉन्च कर सकता है कोरोना का पहला वैक्सीन, ह्यूमन ट्रायल की मिली इजाजत

अक्षय कुमार :

एक तरफ जहाँ पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लगभग लगभग तबाह हो चुकी है. लाखों की संख्या में लोगों की जानें जा रही है. भारत (India) में भी कोरोना मरीजों की संख्या 6.25 लाख के पार हो गई है. 
ऐसे में सबसे बड़ी राहत भरी खबर यह है कि 15 अगस्त को भारत कोरोना की वैक्सीन लॉन्च कर सकता है.  इस वैक्सीन का नाम 'कोवैक्सीन' है जिसे फार्मास्यूटिकल कंपनी भारत बायोटेक (bharata Biotech) ने तैयार किया है. भारत बायोटेक और आईसीएमआर संयुक्त रूप से वैक्सीन लॉन्च कर सकता है.
अभी अभी ही COVAXIN को ह्यूमन ट्रायल की इजाजत मिली है. ICMR द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 7 जुलाई से कोवैक्सीन को मानव शरीर (Human body) पर परीक्षण किया जाएगा. इसके बाद अगर परीक्षण सफल रहा तो 15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस (Independence day) के दिन इसे मार्केट में लॉन्च कर दिया जाएगा. यह आसार लगाया जा रहा है कि कोवैक्सीन के सफल परीक्षण होते ही कोरोना का सटीक वैक्सीन बनाने वाला भारत दुनिया का पहला देश हो सकता है. बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी अपने संबोधन में इस बात का जिक्र कर चुके हैं. 
डॉ. कृष्णा एल्ला. चेयरमैन-मैनेजिंग डायरेक्टर, भारत बायोटेक

 गौरतलब है कि बीते दिनों ही हैदराबाद (Haidrabad) की फार्मा कंपनी भारत बायोटेक ने दावा किया था कि उसे कोवैक्सीन के फेज-1 और फेज-2 के ह्यूमन ट्रायल के लिए डीसीजीआई (DCGI) से हरी झंडी भी मिल गई है. कंपनी ने यह भी कहा है कि ट्रायल का काम जुलाई के पहले हफ्ते में शुरू किया जाएगा. भारत बायोटेक का वैक्सीन बनाने में पुराना अनुभव है.
गौर करने लायक बात यह भी है कि भारत बायोटेक कंपनी ने पोलियो, रेबीज, रोटावायरस, जापानी इनसेफ्लाइटिस, चिकनगुनिया और जिका वायरस के लिए भी वैक्सीन बना चुकी है.


No comments