बड़ी खबरें

गिद्धौर : सरकारी योजनाओं में अनियमितता का आक्रमण, गुणवत्ता पर लगा ग्रहण

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :-

सरकार ने मौजूदा वक्त में विकास को गति देने के लिए कई महत्व आकांक्षी योजनाओं को धरातल पर उतारने में अपनी भूमिका निभा रही है, पर इन योजनाओं में व्याप्त  अनियमितता इसके फलीभूत होने में बाधक बन रही है।


ऐसी ही बानगी गिद्धौर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न भागों में देखने को मिल रही है, जहां सरकारी योजनाओं में व्याप्त भ्रष्टाचार रसूखदारों के प्रगाढ़ कमाई ला जरिया बनी हुई है। गिद्धौर प्रखण्ड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में क्रियान्वयित हो रहे मनरेगा, लघु सिंचाई विभाग, जन वितरण प्रणाली, आदि परियोजनाओं के तहत चल रहे कार्यों की बुनियाद अनियमितता पर ही टिकी है, और गुणवत्ता सवालों के घेरे में। विभाग व प्रशासन द्वारा कार्रवाई में लापरवाही से संवेदकों के मनोबल बढ़ते दिख रहे हैं। इससे अनियमितता को हवा मिल जाने के परिणामस्वरूप  सरकार की ओर से गरीबी उन्मूलन तथा विकसित राज्य की दिशा में चलाये गए इन योजनाओं में गुणवत्ता धरातल से कोसों दूर दिख रही है। कुल मिलाकर यदि कहें तो अनियमितता के आक्रमण से गिद्धौर प्रखण्ड क्षेत्र में योजनाओं का हाल बेहाल है, यही कारण है किइस तंत्र से जुड़े लोगों के लिए यह उनके समृद्धि का कारण बनता जा रहा है।
प्रखण्ड क्षेत्र के लोग कहते हैं कि यदि विभागीय व प्रशासनिक स्तर पर निष्पक्ष रूप से सभी योजनाओं की जांच कराई जाए तो इनमे व्याप्त बड़ी अनियमितता उजागर हो सकती है।