बड़ी खबरें

संक्रमण के भंवर में फंस गयी जमुई की नैया, प्रशासन ने थामी पतवार


न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

संक्रमण के मैदान में शून्य पर नाबाद बल्लेबाजी करने वाला जमुई भी कोरोना के इस मैच में जीती हुई बाजी हार गया है। इस पीच पर बल्लेबाज़ के रूप में तैनात प्रशासन भी जमुई के गिरते विकेट को नहीं बचा सकी। सूबे के 38 जिलों में से 37 जिलों में कोरोना ने अपना आतंक फैला रखा था, इनमें जमुई जिला ही था जो  कोरोना के जद से आजाद था। अब जमुई से भी कोरोना का एक मामला सामने आने की पुष्टि स्वयं जिलाधिकारी धर्मेन्द्र कुमार ने पत्रकारों के समक्ष की है।
Dharmendra Kumar, DM Jamui

 पत्रकारों को संबोधित करते हुए डीएम ने कहा है कि जमुई जिले के खैरा प्रखंड अंतर्गत एक गांव का एक व्यक्ति, जो मुंम्बई में ऑटो का बिजनेस करता है वो कोरोना जांच में पॉजिटिव पाया गया है। हिस्ट्री के अनुसार उक्त व्यक्ति के संपर्क में आने वाले कुल 19 लोगों का सैम्पल लिया जा रहा है।
जिलाधिकारी ने बताया कि वे  कुल 11 लोग रविवार को ही अपने 2 गाड़ी से गांव पहुचे जहां ग्रामीणों ने गांव से बाहर उनलोगों के आवासन का प्रबंध कर इसकी सूचना जिला प्रशासन को सूचना दी। ग्रामीणों की सूचना के आधार पर संक्रमित युवक को अस्पताल लाकर उसका सैम्पल लिया गया और उसे 11 तारीख को जांच के लिए भेजा गया। जांचोपरांत इस युवक का रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसकी पुष्टि किये जाने की जानकारी देते हुए डीएम ने कहा कि अब संक्रमित व्यक्ति के नजदीकी संपर्क में कुल 19 लोगों का सैम्पल लेने की कवायद तेज कर दी गयी है।


मामले की तहकीकात करते अफसर।   -(फ़ोटो-शुभम मिश्र) 

डीएम ने बताया कि बीडीओ व सीओ का दल स्पॉट निरीक्षण कर लगातार लोगों से सम्पर्क साधने में लगे हैं। बीते 48 घण्टे से गाँव के बाहर बने एक फॉर्म पर सभी लोगो को रखा गया है, इनमे महिलाएं भी शामिल हैं। डीएम ने कहा कि फिलहाल संक्रमण का खतरा नहीं है फिर भी इनमे सीधे सम्पर्क में आने वाले 19 लोगों का सैम्पल उठाया जा रहा है। जिसका रिपोर्ट अगले दिन आ जायेगा। उन्होंने बताया कि उक्त व्यक्ति में संक्रमण का कोई लक्षण नहीं दिख रहा था , पर जांच में पोजीटिव पाया गया। संक्रमित युवक के घर को प्रशासनिक देख रेख में एहतियातन सील कर दिया गया है तथा उसके संपर्क में आये अन्य लोगों की जानकारी ली जा रही है।

सील कोडवाडीह की तस्वीर।   (साभार-शुभम मिश्र)


-संक्रमित व्यक्ति के घर से सटे 4 गांवों हुए सील -

संक्रमित व्यक्ति जमुई जिले के खैरा प्रखंड अंतर्गत कोरबाडीह गांव निवासी हैं। खबर फैलते ही खैरा प्रखंड के बीडीओ एवं थाना अध्यक्ष स्पॉट पर पहुंचकर ग्रामीणों को घर मे रहने की सख्त हिदायत दी। इसके अलावे पीड़ित मरीज के घर को प्रशासनिक देखरेख में सील कर दिया। साथ ही इसके गांव से सटे तकरीबन 3 किलोमीटर के परिधि में 3 गांव को सील किया गया है। इधर, कोरबाडीह गांव जाने वाले रास्ते को बांस से बैरियर लगाकर सील कर दिए जाने पर पूरे इलाके में सन्नाटा पसरा हुआ है।


>> देखिए वीडियो -


 - जिलेवासियों में हड़कम्प, सड़कों पर पसरा सन्नाटा -

 कोरोना के कहर से  जमुई की सड़कों पर आदमी की  चहलकदमी शून्य रही जिससे सन्नाटा पसरा रहा। सड़कों पर आदमी न मात्रा दिखे जबकि बैंकों में अपने हक की राशि लेने को जाद्दोजहद जारी रही। न तो यहां सोशल डिस्टनसिंग दिखा और न ही प्रशासनिक भय। बताया जाता है कि पीड़ित मरीज को गिद्धौर में बनाये गए कोविड केयर सेन्टर में रखा गया है, पर अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नही हुई है।
इधर, कोरोना के इस रोमांचक मैच में जमुई का विकेट गिरने पर जिलेवासियों में त्राहिमाम की स्थिति बनी हुई है। इसी परिदृश्य में यहां गौरतलब है कि कोरोना जैसे संक्रमण के भंवर में फंसे जमुई की नैया पर नियंत्रण पाने के लिए प्रशासन ने सख्ती से पतवार थाम ली है।