बड़ी खबरें

गिद्धौर प्रखण्ड का पहला कोरोना केस आया सामने, मचा हड़कम्प

>> कोरोना के जद में आया महुली, प्रशासन ने गांव किया सील

गिद्धौर (News Desk) :- देश भर में फैल चुका कोरोना (Covid19) का साम्राज्य अब सूबे के लगभग सभी जिलों में अपना पाँव पसार चुका है। जमुई जिला दिन ब दिन इसके हथेलियों में जकड़ता जा रहा है। गुरुवार को चार नए कोरोना मरीज मिलने के कारण जिला प्रसासन की परेशानी बढ़ गयी है। इसी कड़ी में गिद्धौर प्रखंड के कोल्हुआ पंचायत अंतर्गत निचली महुली गांव निवासी एक व्यक्ति कोरोना पोजीटिव पाया गया, जिसकी पुष्टि होने के बाद गांववासियों में कोरोना संक्रमण को लेकर भय का माहौल व्याप्त है।

गांव को सील करते हुए अधिकारी

एकत्रित जानकारी अनुसार, उक्त कोरोना पोजेटिव युवक दिल्ली से 15 मई को जमुई पहुंचने के बाद वहां उक्त मरीज का स्क्रीनिंग कर उसे गिद्धौर क्वरेंटिंन सेंटर भेज दिया गया, जहाँ चिकित्सकीय दल द्वारा उसकी स्क्रीनिंग कर उसे पुनः होम क्वरेंटिंन कर दिया गया। लेकिन ग्रामीणों द्वारा उसके गांव में प्रवेश करने पर रोक लगाने के बाद उसे पुनः होंम क्वरेंटिंन सेंटर भेज दिया गया। वहीं लगभग 07 दिन गुजारने के बाद वह पुनः घर आ गया। बीते 26 मई को उक्त व्यक्ति के गले मे दर्द व छाती में दर्द की शिकायत होने पर वह सदर अस्पताल अपना जांच करवाने गया। जहां उसका कोरोना सेम्पल लेकर जांच में भेजे जाने के बाद उसे अतिथि पैलेस में बने आईशोलेशन वार्ड में रखा गया।

सील करते हुए गिद्धौर प्रशासन व अधिकारी

 गुरुवार को उसकी रिपोर्ट पोजिटिव होने की पुष्टि सीएस द्वारा किये जाने पर प्रखंड विकास पदाधिकारी गोपाल कृष्णन, अंचलाधिकारी अखिलेश सिन्हा, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रामस्वरूप चौधरी, थानाध्यक्ष आशीष कुमार तथा एएसआई नित्यानंद सिंह की मौजूदगी में संक्रमित युवक के गांव निचली महुली को चारों दिशा से तीन किलोमीटर के दायरे में पूरे इलाके को सील कर दिया गया है।
बता दें, 28/05/2020 को जिला आपदा प्रबंधन द्वारा जारी कोविड-19 के दैनिक प्रतिवेदन के अनुसार, प्रतिवेदित दिवस तक जनुई जिले भर में कोरोना के कुल 22 केस एक्टिव हैं। इधर, गिद्धौर प्रखंड के महुली गांव से कोरोना का यह पहला केस मिलने से क्षेत्र में हड़कम्प मचा हुआ है।