बड़ी खबरें

अलीगंज : माले कार्यकर्ताओं ने सामाजिक दूरी बनाकर दिया धरना

अलीगंज :- बाम दलों के संयुक्त आह्वान पर राज्य व्यापी कार्यक्रम के तहत भाकपा माले के द्वारा अलीगंज प्रखंड एवं विभिन्न गावों एवं कार्यालय में अंचल सचिव कामरेड महेन्द्र यादव की अध्यक्षता में सोशल डिसटेनसिग को पालन करते हुए भाकपा माले कार्यकर्ताओ ने धरना दिया। विरोध दिवस धरना को संबोधित करते हुए महेन्द्र यादव ने कहा कि प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के एवज में उनसे पैसा वसूलने को लेकर सरकार के आदेश की कड़ी निन्दा की। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव हेतु पुरे देश में हुए लाकॅडाउन से मजदूरों के रोजगार बंद हो गये और अन्य प्रदेशों में फंसे थे। लाने को एवज में किराया वसुली किया जा रहा है।
डॉ.डदिनेश कुमार ने कहा कि देश व्यापी विरोध के बाद अंततः सरकार प्रवासी मजदूरों को घर पहुचाने पर सहमत हुई, लेकिन केन्द्र सरकार ने अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए ट्रेन किराया राज्य से वसुलने की बात कही। इधर बिहार सरकार ने देने से इंकार करते हुए मजदूरों से वसुलने की घोषणा की है। बिडंबना यह है कि पीएम केयर फंड में करोड़ों अरबों रूपये जमा है।पीएम इसे मजदूरों पर खर्च करना नही चाहते हैं।परमेश्वर यादव ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार के बीच फेंका फेकी का खेल खेल रही है, और पुरा बोझ भुखमरी बेरोजगारी की मार झेल रही मजदूरों पर डाला जा रहा है। अस्पताल में सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराने के बजाय केन्द्र सरकार सेना के विमानों पर अस्पताल आदि जगहों पर फुल बरसाने जैसे शो वाजी कार्यक्रम कर देश की धन को दुरूपयोग करने पर तुली है।धरना पर बैठे नेताओं  कहा कि एक ओर पुरे देश कोरोना वायरस से परेशान है। केन्द्र सरकार 68 सौ करोड़ की दो विशेष विमान खरीद घोर निन्दनीय है। धरना पर बैठे लोगों ने मजदूरों के राशन कार्ड से वंचित लोगों अनाज मुहैया करायी जाय एवं अन्य सुविधाओं का लाभ दिलाने की मांग किया।