बड़ी खबरें

सोनो : बीडीओ ने जनप्रतिनिधियों के साथ की बैठक, दिया निर्देश

सोनो (Sono) :- प्रवासी मजदूर, जिन्हें रजिस्ट्रेशन के पश्चात सरकार द्वारा वापस लाया जा रहा है। इन प्रवासी मजदूरों को प्रखंड में बने क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर कोरेंटिन किया जा रहा है। वहीं दूसरी और कुछ मजदूर बिना रजिस्ट्रेशन और विभागीय जानकारी के भी घर लौट रहे हैं। संबंधित जनप्रतिनिधि ऐसे प्रवासी मजदूरों की जानकारी उपलब्ध कराएं। इन प्रवासियों को 14 दिनों तक होम क्वॉरेंटिन किया जाना है। साथ ही उन्हें इस आशय का शपथ पत्र भी देना होगा, यह बातें बुधवार को बीडीओ रविजी ने प्रखंड के विभिन्न पंचायतों के जनप्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा।बीडीओ ने बताया कि होम क्वॉरेंटिन किए गए प्रवासी मजदूरों का प्रतिदिन मेडिकल जांच किया जाएगा और उनमें यदि कोविड-19 का कोई भी लक्षण दिखाई पड़ता है तो तत्काल उन प्रवासियों को प्रखंड स्तर पर आइसोलेट किया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए प्रवासी मजदूरों पर नजर बनाए रखें। बीडीओ ने बताया कि बुधवार तक तकरीबन एक सौ प्रवासी मजदूरों को प्रखंड के राज्य संपोषित उच्च विद्यालय क्वॉरेंटाइन केंद्र पर क्वॉरेंटिन किया गया है। प्रवासी मजदूरों के आने का सिलसिला जारी है। इसलिए एहतियातन तैयारियां की जा रही है। प्रखंड स्तर पर क्वॉरेंटाइन केंद्रों की संख्या बढ़ाई जा रही है। आवश्यकता पड़ने पर पंचायत स्तर पर बने क्वॉरेंटाइन केंद्रों का भी उपयोग किया जा सकता है। मौके पर अंचलाधिकारी अनिल कुमार चौबे, थानाध्यक्ष राजेश कुमार, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ शशि भूषण चौधरी, प्रखंड सांख्यिकी पदाधिकारी कुमार संजय सहित मुखिया ललित नारायण सिंह, जमादार सिंह, अजय कुमार सिंह, गेना मांझी, सुंदरलाल सिंह, नियाज अंसारी आदि उपस्थित थे।