कोरोना के खौफ में ईद की रौनक रही फीकी, न गले मिले और नहाथ मिलाया। मस्जिदों में नहीं हुई सामूहिक नमाज - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Monday, 25 May 2020

कोरोना के खौफ में ईद की रौनक रही फीकी, न गले मिले और नहाथ मिलाया। मस्जिदों में नहीं हुई सामूहिक नमाज


---------------------------------------
 गले नहीं, लोगों के दिल मिले
--------------------------------------

सोनो :- कोरोना काल के इस ईद में कोरोना संक्रमण के बढ़ते आंकड़ों के बीच मुस्लिम भाइयों ने लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर आए। ईद के मौके पर जहां सड़कें गुलजार होती थी,वही इस बार लोगों ने घरों में ही सेवइयों का लुत्फ उठाना बेहतर समझा। सड़कें, गलियां सुनसान थी। सोशल मीडिया के जरिए ही लोग एक दूसरे को ईद की बधाई देते नजर आए। समाजसेवी डॉ एमएस परवाज ने प्रखंड कार्यालय,अंचल कार्यालय,थाना परिसर में पदाधिकारियों व कर्मियों के बीच सेवइयां वितरित कर, इस विकट परिस्थिति में काम कर रहे इन कोरोना वारियर्स को धन्यवाद दिया। मौके पर उन्होंने कहा कि शायद यह पहला मौका है जब इस तरह सादगी के साथ ईद मनाई गई हो। न मस्जिदों में सामूहिक नमाज हुई,न एक दूसरे के घर गए। न गले मिले और न ही किसी से हाथ मिलाया। इस बार ईद पर लोगों के दिल मिले हैं और सभी ने मिलकर कोरोना महामारी से निजात के लिए अल्लाह ताला से दुआ की।

Post Top Ad