Header Ad

header ads

गिद्धौर PHC में 11 संक्रमितों ने दी कोरोना को मात, घर वापसी से चेहरे खिले

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच Jamui जिलेवासियों के लिए सोमवार का दिन राहत भरा रहा। कोरोना काल में जमुई जिले के लिए सबसे अच्छी खबर यह रही कि Gidhaur PHC में रखे 13 मरीज के जांच रिपोर्ट में से 11 मरीज की रिपोर्ट नेगेटिव आयी है।


जमुई जिले के खैरा, सोनो, झाझा, जमुई से आये पोसिटिव मरीजों ने महज 10 दिनों में ही कोरोना को मात दिया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम व गिद्धौर पीएचसी अस्पताल प्रबंधन द्वारा उन्हें उनके एम्बुलेंस से घर के लिए रवाना कर दिया गया है।

- मरीजों ने सुनाई आपबीती -

घर लौट रहे मरीजों ने आपबीती सुनाते हुए बताया कि शुरुआत में हिम्मत साथ छोड़ गई थी,फिर आत्मविश्वास काम आयी। गिद्धौर पीएचसी में इलाज के अलावा रहने और खाने पीने की सुविधा दी जा रही थी। मरीजों ने जिला प्रशासन सहित अस्पताल के कर्मियों की प्रशंसा की। साथ ही चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा उनके किए गए देखभाल को लेकर उनका आभार जताया।


 - तालियों की गड़गड़ाहट व पुष्प गुच्छ से किया अभिनन्दन -

इधर, मरीजों को विदा करते वक्त मेडिकल टीम (Medical Team) ने ताली बजाई और उनका उत्साह बढ़ाया।  वहीं मौके पर पहुंचे एसडीओ लखिन्द्र पासवान, पूर्व मंत्री दामोदर रावत, सिविल सर्जन डॉ. विजयेन्द्र सत्यार्थी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. राम स्वरूप चौधरी, सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने विदा हो रहे मरीजों को सोशल डिस्टनसिंग बनाकर पुष्प गुच्छ भेंट किया और डिस्चार्ज हुए 11 मरीजों के उत्तम स्वास्थ्य की कामना की।



- - बोले अधिकारी, जिले के लिए ये है उपलब्धि  - -

 जिले के ये बड़ी बात है कि बेहद सीमित संसाधनों  में मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर जा रहे हैं। जिला प्रशासन पूरी तन्मयता से कोरोना को हराने में अपना योगदान दे रही है।        - लखिन्द्र पासवान, एसडीओ, जमुई
- - - 

ये किसी उपलब्धि से कम नहीं। जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर 11 लोगों को डिस्चार्ज किया जा रहा है। सभी मरीजों को होम क्वेरेंटिंन में रहने की सलाह दी गयी है।   - डॉ. विजयेन्द्र सत्यार्थी, सीएस, जमुई।
 - - - - - - - - -
देखिए वीडियो -


जमुई जिले में जिस प्रकार तेजी से कोरोना ने अपना पांव पसारा था, उसी रफ्तार से अब कोरोना (Covid19) संक्रमित मरीज़ इस खतरनाक बीमारी को मात देकर अपने घर लौटे रहे हैं। एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के मरीजों के घर लौटने पर जिला प्रशासन ने राहत की सांस तो जरूर ली है, पर गौरतलब यह है कि अभी भी गिद्धौर पीएचसी में 7 मरीज कोरोना से जंग लड़ रहे हैं।