Header Ad

header ads

गिद्धौर टॉपर बनी महुली की मानसी, मैट्रिक में पाए 445 अंक


न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

 गिद्धौर के महुली जैसे गांव में बेहद कम और सीमित संसाधनों के बीच मैट्रिक रिजल्ट में सफलता हासिल कर मानसी कुमारी ने ग्रामीण प्रतिभा का मान बढ़ाया है।
मानसी कुमारी।

 बिहार बोर्ड द्वारा जारी इस परिणाम में शानदार प्रदर्शन कर शैक्षणिक क्षितिज पर अपने हुनर का परचम लहराने वाली मानसी निम्नवर्गीय परिवार से सम्बन्ध रखती है। मानसी कुमारी ने बेहद कम संसाधनों के बीच 445 अंक प्राप्त कर गिद्धौर प्रखंड भर में ग्रामीण प्रतिभाओं का लोहा मनवाया है। मानसी अपने सफलता का श्रेय अपने पढाई के प्रति निष्ठा, कठिन परिश्रम, लगनशीलता, के साथ साथ अपने पिता प्रदीप कुमार तांती, माता कौशल्या देवी, सहित अपने मार्गदर्शक  शिक्षक अवध किशोर तांती को दिया है। मानसी ने बताया कि उन्हें प्रेरित करने में उसके विद्यालय एम.सी.भी. एम तथा वहां के शिक्षकों का भी बड़ा योगदान रहा है। मानसी को गणित और हिंदी में सर्वाधिक 92 अंक प्राप्त हुए हैं। मानसी अपना हाइर एजुकेशन जारी रख अपने देश और समाज मे अपनी भूमिका निभाने की अभिलाषा रखती है। गिद्धौर के क्षितिज पर अपने ज्ञान और शिक्षा के उम्दा प्रदर्शन करने वाली  मानसी अब तमाम ग्रामीण बालाओं के लिए प्रेरणा के स्त्रोत बन गयी है।
ग्रामीण इलाके में जहां बेटियों को घर की दहलीज लांघने की इजाजत नहीं होती , उनकी आजादी में सामाजिक बेड़ियाँ जकड़ दी जाती है, वहीं इससे उभरकर गिद्धौर के प्रखंड टॉपरों में अपना नाम दर्ज कराने वाली मानसी ने यह साबित कर दिया है कि कठिन परिश्रम और लक्ष्य के प्रति निष्ठा के आगे तमाम बाधाएं नतमस्तक हो जाया करती हैं।