बड़ी खबरें

मौरा के PDS संचालक की मनमानी से उपभोक्ताओं में रोष, नहीं मिल रहा खाद्यान्न


मौरा/गिद्धौर (न्यूज़ डेस्क) :-

 एक ओर जहां पूरा विश्व कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से परेशान है तो वहीं दूसरी तरफ निम्न स्तर पर परिवार का गुजर बसर कर रहे निम्नवर्गीय परिवार का कामकाज इस लॉक डाउन की वजह से ठप हो गया है। परिणामतः इनमें भुखमरी जैसी समस्या उत्पन्न होती जा रही है, जिसकी सुधि लेने वाला कोई नही।

मामला है गिद्धौर प्रखण्ड के मौरा पंचायत का जहां मौरा पैक्स द्वारा संचालित जन वितरण प्रणाली के वितरक किष्टो रावत द्वारा क्षेत्र के पीडीएस उपभोक्ताओं को मार्च माह का खाद्यान्न उठाव कर दर्जनों लाभुकों के बीच वितरण नही किये जाने से आक्रोशित उपभोक्ताओं ने पैक्स संचालक के मनमाने रवैये के खिलाफ सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए प्रदर्शन कर रोष जताया ।

-ग्रामीणों का है कहना -

 बताते चलें कि,खाद्यान्न उठाव से जुड़े इस समस्या को लेकर मौरा अल्पसंख्यक टोला के ग्रामीण समीम अंसारी, मंजूर अंसारी, शिद्दीक अंसारी, आलम अंसारी, इम्तियाज अंसारी, जाहिद अंसारी, नाजिर अंसारी, बिनोद ठाकुर, नागेश्वर राम, बालमुकुंद ठाकुर, मनोज ठाकुर निजामुद्दीन अंसारी, सुरेंद्र दुबे, रूबी देवी, सपना देवी, गुड़िया देवी, निर्मला देवी प्रभास्कर कुमार दुबे, सुनैना देवी, अमरनाथ दुबे सहित दर्जनों पीडीएस लाभुकों ने जानकारी देते हुए बताया कि पीडीएस संचालक किष्टो रावत द्वारा मार्च महीने का खाद्यान्न हमलोगों को नहीं वितरित किया गया। जिससे हम ग्रामी भुखमरी की स्थिति में आ गए हैं। वहीं, उनलोगों ने यह भी बताया कि पीडीएस संचालक द्वारा दिसंबर 2019 माह का भी खाद्यान नही दिया गया था। खाद्यान्न के अभाव में परिवार के जीविकोपार्जन में परेशानी आ रही है।


इधर, राशन कार्ड वाले उपभोक्ता को खाद्यान्न न मिलने से जहां इनमें आक्रोश पनप रहा है वहीं, बिना राशनकार्ड धारी में सरकारी बाबूओं के कार्यशैली से उपेक्षित हैं। बैकुंठ झा, पारस नाथ रावत, आशीष झा आदि बताते हैं कि राशन कार्ड नहीं रहने के कारण भूखे मरने के कगार पर हैं। लॉक डाउन में काम न मिलने से आमदनी के स्त्रोत भी ठप है। अन्य सरकारी दावे भी फिसड्डी सिद्ध हो रहे हैं।
पीडीएस संचालकों की मनमानी से गिद्धौर प्रखंड क्षेत्र के त्रस्त  उपभोक्ताओं ने जिला प्रसासन से अपने जीविकोपार्जन हेतु संबंधित पैक्स पीडीएस संचालक से खाद्यान्न उपलब्ध कराने की गुहार लगाई है।

" डीलर से बात हो गई है।अभी उपभोक्ताओं को राशन उपलब्ध करवा दिया जायेगा।  राशन कार्ड धारियों को ही खाद्यान्न मिलेगा, बिना राशन कार्ड वालों को खाद्यान्न देने के लिए विभागीय निर्देश प्राप्त नहीं हुए हैं।"
                 - कुमार मनोज,
   प्रखंड खाद्य आपूर्ति पदाधिकारी, गिद्धौर (जमुई)