बड़ी खबरें

कोरोना से बचाव के लिए जमुई में इतना कुछ कर रहे हैं चिराग पासवान और लोजपा

जमुई : कोविड-19 कोरोना वायरस की महामारी के बीच देशभर में बचाव को लेकर लॉक डाउनलागू है. ऐसे में जमुई लोकसभा से सांसद एवं लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान द्वारा उनके संसदीय क्षेत्र में जरूरतमंदों को कई प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं. इस बाबत लोक जनशक्ति पार्टी आईटी सेल के जमुई जिलाध्यक्ष गुंजन तिवारी से gidhaur.com ने बातचीत की और यह जाना कि लोजपा एवं सांसद के सौजन्य से जमुई जिला में किस तरह के राहत कार्य किये गए हैं. आप भी पढ़िए :


सवाल 1: लोक जनशक्ति पार्टी द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के लिए जमुई जिला एवं लोकसभा क्षेत्र में क्या सब कार्य किये जा रहे हैं?

गुंजन तिवारी : लोजपा द्वारा जमुई जिला के जरूरतमंदों में खाद्य सामग्री, मेडिकल किट, सेनेटाइजर, मास्क एवं 5 किलोग्राम चावल का वितरण किया गया.


सवाल 2. जमुईवासियों के लिए कितने मास्क, सैनिटाइजर, हैंड वाश सांसद चिराग पासवान ने उपलब्ध करवाए?

गुंजन तिवारी : 15 हजार मास्क और 15 हजार सेनेटाइजर सांसद चिराग पासवान द्वारा उपलब्ध करवाया गया. जिसे एनडीए गठबंधन के कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने क्षेत्र के जरूरतमंदों में वितरित किया.

सवाल 3. लोगों का कहना है कि जरूरतमंदों को मास्क, सैनिटाइजर, हैंड वाश आदि नहीं दिए गए हैं, इसपर आप क्या कहेंगे?

गुंजन तिवारी : लोक जनशक्ति पार्टी के जितने भी पंचायत पदाधिकारी, प्रखंड पदाधिकारी एवं जिला पदाधिकारी हैं उन्होंने 153 पंचायतों में सभी जगह शिविर लगाकर मास्क और सेनिटाइजर का वितरण किया. इसका प्रमाण मीडिया की खबरों में है.

सवाल 4. सांसद चिराग पासवान द्वारा एमपीलैड के तहत दिए गए 1 करोड़ की राशि का क्या इस्तेमाल किया गया?

गुंजन तिवारी : माननीय सांसद चिराग पासवान के एमपीलैड के तहत एक करोड़ राशि जिला को दिया गया है. इस राशि में जिला के प्रत्येक थाना में खाद्य सामग्री वितरण, स्वास्थ्यकर्मियों के लिए सुरक्षा किट, हैंड वाश, हैंड ग्लव्स और बहुत तरह का राहत और बचाव कार्य सम्पूर्ण जिला में चलाया जा रहा है. जिला में जो कुछ भी राहत कार्य का प्राकलन बना है वो सारे कार्य एमपीलैड की राशि से ही हो रही है.


सवाल 5. कोरोना वायरस से बचाव के लिए आप जमुई लोकसभा क्षेत्र की जनता को क्या संदेश देना चाहेंगे?

गुंजन तिवारी : जमुई लोकसभा वासियों से अपील यही है कि वो घर में रहें और अन्य लोगों को जागरूक भी करें. यही सबसे बड़ा इलाज है कोरोना वायरस को मिटाने का.