Header Ad

header ads

जमुई का यह गांव कोरोना जैसे विपदा में सरकारी सहायता से है वंचित, छलका दर्द

सिमुलतला (गणेश कुमार सिंह) :- जमुई जिला अंतर्गत चकाई प्रखंड क्षेत्र के कल्याणपुर पंचायत में सैंकड़ों परिवार का राशन कार्ड नहीं है। जमुई जिला व लोकसभा  के अंतिम  छोर पर बसा कल्याणपुर पंचायत के विभिन्न गांव जैसे लहाबन, प्यारफेड, मचनातरी, खोनाडावर सहित अन्य वार्ड के  गरीब लोंगों कोरोना जैसे विपदा में सरकारी सहायता से वंचित हैं।
अब इसे विभाग की लापरवाही कहें या सरकार की नीति पर इस विपदा में बिना कार्डधारी अपने आप को अनाथ महसूस कर रहे हैं। लॉक डाउन में ऐसे गरीब परिवार के लोगों को मजदूरी का काम नहीं मिलने से भुखमरी की स्थिति उत्तपन्न हो चुकी है।
             राशन कार्ड से वंचित ग्रामीणों का कहना है कि कल्याणपुर पंचायत में आधा से अधिक घरों में राशन कार्ड नही है। लगभग दो हजार की गरीब जनसंख्या कन्ट्रोल दुकान की चक्कर लगा रही है। इधर लॉक डाउन में गरीब मजदूरों को दो जून की रोटी के लिये  मानीय मुख्यमंत्री जी ने राशनकार्ड धारी को नगद राशि और राशन वितरण कराने का निर्देश दिया है। वाबजूद कल्याणपुर पंचायत के लोगों को राशन कार्ड नही होने के कारण आधे से अधिक व्यक्ति इसका लाभ नही मिलेगा। पत्रकारों से बात चीत में ग्रामीणों ने अपनी माली हालत को दिखाते हुए सिसक कर रो पड़े और अपने परिवार व भूखे बच्चों को दिखाते हुए वस्तु स्थिति से अवगत कराया।
 वही , गांव के कुछ युवक  ने बिना कार्डधारी परिवारों की एक सूची बनाकर  आधार नम्बर को अंकित कर  पत्रकारों को कार्ड से वंचितों की संख्या को दिखाया। गौर फरमाने वाली बात यह  है कि इस सुदूरवर्ती क्षेत्र के बिना कार्डधारी को लॉक डाउन में राशन का व्यवस्था नही हो पाता है तो भुखमरी की स्थिति उत्तपन्न हो जाएगा। इस संदर्भ की जानकारी के लिए चकाई एमओ दीपक कुमार की मोबाइल नंबर 9973976361  पर सम्पर्क करने की कोशिश की गई, परन्तु उनका मोबाइल नेटवर्क क्षेत्र में नही था।