बड़ी खबरें

आर्थिक रूप से गरीब परिवार का मसीहा बना युवा संगठन


पटना :
जगनपुरा के मोनू की माँ की तबियत अचानक बिगड़ गई। ऐसे में आनन-फानन में उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने की वजह से मरीज के परिजन अस्पताल के पैसे दे पाने में असमर्थता जाहिर कर रहे थे। उनका कहना था कि अस्पताल प्रबंधन द्वारा जितने पैसों की मांग की जा रही है उतना दे पाने में सक्षम नहीं हैं।

ऐसे में उनकी मदद के लिए युवा संगठन सामने आया। युवा संगठन ने हर्ष हॉस्पिटल के मालिक चंदन जी से बातचीत की और उन्हें अस्पताल फीस, आईसीयू फीस एवं बेड चार्ज माफ करने का आग्रह किया। जिसपर वे तुरंत तैयार हो गए। मोनू की माँ को तुरंत ही पहले वाले हॉस्पिटल से लाकर हर्ष हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। यहाँ उनका इलाज पूरी व्यवस्थित तरीके से की जा रही है।

मरीज के परिजनों ने युवा संगठन के प्रति आभार प्रकट किया है।