बड़ी खबरें

शिक्षा सुरक्षा सम्मान के लिए संघर्ष की रणनीति तैयार : जन अधिकार छात्र परिषद

पटना : शुक्रवार को माता सावित्री बाई फुले की जयंती पर पटना मंदिरी स्थित जन अधिकार पार्टी कार्यालय में जन अधिकार छात्र परिषद का राज्य, जिला एवं विश्वविद्यालय कार्यकारिणी का बैठक बुलाया गया जहां बैठक को संबोधित करते हुए जन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्यक्ष विशाल कुमार ने कहा कि शिक्षा, सुरक्षा, सम्मान, रोजगार जैसे मुद्दे पर चरणबद्ध संघर्ष के लिए रणनीति तैयार किया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के कार्यकाल में मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह कांड, टॉपर्स घोटाला, सृजन घोटाला, चमकी बुखार एवं पटना जल जमाव से बिहार देश मे हाशिए पर गया है। जिसके जिम्मेदार नीतीश कुमार हैं आनेवाले चुनाव में आम ग्रामीणों तक जन अधिकार छात्र परिषद सरकार के काले कारनामों का पोल खोलेगी।
पटना यूनिवर्सिटी के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मनीष कुमार ने कहा कि जिस तरह सड़को से आम जन सरोकार के मुद्दे पर पप्पू यादव जी ने संघर्ष किया है उसी के आधार पर पटना यूनिवर्सिटी में जीत मिली है। जिसके बाद से बिहार के तमाम विश्वविद्यालय के छात्र, जन अधिकार छात्र परिषद से जुड़ना चाहते है सभी विश्वविद्यालय छात्रसंघ के होने वाले छात्रसंघ चुनाव में मजबूती से लड़ेगी। जन अधिकार छात्र परिषद के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष आज़ाद चाँद ने कहा कि महिलाओं में शिक्षा की अलख जगानेवाली माता सावित्री बाई फुले के इस देश मे आज महिलाओं पर हिंसा बढ़ी है, छात्राएं सुरक्षित नही है, आज हम सरकार से छात्राओ के सुरक्षा की गारंटी की मांग करते है।
सभा के संचालन करते हुए वजन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश प्रधान महासचिव मनदीप गुप्ता ने कहा कि बिहार में जाति धर्म की राजनीत नही चलेगी। जन अधिकार छात्र परिषद आनेवाले सभी छात्रसंघ चुनाव में अपने शिक्षा सुरक्षा सम्मान के लिए सड़कों पर संघर्ष किया, इसी के आधार पर चुनाव लड़ेगी। जन अधिकार छात्र परिषद के इस बैठक में जन अधिकार छात्र परिषद के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष रौशन कुमार, राहुल कुमार, दीपक कुमार, आमिर राजा, आलोक कुमार, विनय कुमार, मोनू कुमार, फैज चांद, कृष्णा कुमार, श्रवण कुमार यादव, शौकत अली, गोलू कुमार, विक्की कुमार, सकलैन कुमार, आशु रिजवी, अमित कुमार, आदित्या कुमार, नाफ़िज़ सहित सैकड़ो छात्र उपस्थित रहे।