बड़ी खबरें

ट्रेन में अज्ञात लुटरों का तांडव, हथियार के नोख पर यात्रियों से की लूटपाट

बरहट/जमुई (न्यूज़ डेस्क) :-

रांची से भागलपुर जाने वाली एक ट्रेन में लुटेरों ने जमकर मचाया उत्पात, झाझा से ट्रेन खुलते ही हथियारों से लैस लुटेरों ने एस वन बोगी में जमकर लूटपाट की। इस दौरान ट्रेन लुटेरों ने तलवार, छुरा और छोटे हथियार का भय दिखाकर शनिवार की रात ट्रेन में सफर कर रहे रेल यात्रियों से कैश, जेवर और मोबाइल समेत लाखों रुपये की लूटपाट की। इस दौरान जमुई स्टेशन पर रात 11:17 पर ट्रेन रुकते ही भाग रहे दो लुटेरों को यात्रियों ने दबोच लिया और उसे जीआरपी के हवाले कर दिया। हालांकि उसके शेष साथी भागने में सफल रहे।

गिरफ्तार लुटेरों के पास से कई यात्रियों के लूटे गए रुपये, बैंक एटीएम  और मोबाइल बरामद किया गया। कुछ यात्रियों ने उसी समय-अपना सामान ले वापस ट्रेन में चले गए। भागलपुर निवासी रेल यात्री ललन सिंह ने बताया कि झाझा से जैसे ही ट्रेन खुली लुटेरों ने एसवन बोगी के दोनों दरवाज़े को बन्दकर तलवार छुरे का भय दिखाकर पूरी बोगी में लूटपाट शुरु कर दी। जमुई स्टेशन पर ट्रेन रुकते ही यात्रियों ने हंगामा और शोर मचाना शुरू कर दिया। इससे घबराकर सभी लुटेरे भागने लगे। इस बीच अन्य यात्रियों के सहयोग से दो लूटेरों को पकड़कर जीआरपी थानाध्यक्ष श्री कांत रजक के हवाले कर दिया गया। इस दौरान ट्रेन को रोककर यात्रियों ने घंटों हंगामा मचाया। गिरफ्तार लुटरों की पहचान  गणेश दास-पिता टुल्लू दास और विशुनदेव दास पिता गणेश दास साकिन तेलियाडीह, थाना झाझा जिला जमुई के रूप में की गई। जीआरपी पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दोनों ट्रेन लुटेरे आपस में बाप और बेटे बताए गए। 

एक्सप्रेस की बोगी में लूटपाट की जानकारी मिलते ही रेल एसपी, डीएसपी, झाझा एवं किउल थानाध्यक्ष जमुई स्टेशन पहुंचे और विस्तृत छानबीन शुरू की। इस संबंध में रेल एसपी आमिर जावेद बताते हैं कि वनांचल एक्सप्रेस में लूट हुई। जमुई स्टेशन पर ट्रेन रुकते ही यात्रियों के सहयोग से जीआरपी ने दो लुटेरों को गिरफ्तार किया। उनके बताए अन्य साथियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है। साथ ही उन्होंने बताया कि ट्रेन में स्कॉर्ट पार्टी मौजूद थी जो पीछे के बोगी में तैनात थी। उनके आने में समय लगा जिसका फायदा उठाकर लुटेरों ने लूटपाट की।