बड़ी खबरें

सिकंदरा : 80 प्रतिशत सफल रही 32 किलोमीटर तक बनी मानव श्रृंखला, 58358 लोगों ने दर्ज कराई उपस्थिति

सिकंदरा : जल जीवन हरियाली को लेकर सिकंदरा प्रखंड में 32 किलोमीटर की दूरी तक बनने वाले मानव श्रृंखला प्रशासनिक पदाधिकारी के पुरी ताकत के बावजूद भी पिछली बार के मुताबिक इस बार फीकी रही। खासकर मानव श्रृंखला को सफल बनाने के लिए प्राइवेट विद्यालय एवं जीविका दीदी, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी सेविका की काफी अहम भूमिका रही। लेकिन नियोजित शिक्षक मानव श्रृंखला के विरोध में खड़ा उतरे।

सिकंदरा मुख्य मार्ग में चौडीहा से बरडीह मोड़ तक 20 किलोमीटर एवं उपमार्ग जखराज स्थान से लछुआड़ होते मिशन चौक तक 12 किलोमीटर तक बनने वाले मानव श्रृंखला का ह्यूमन चेन जगह-जगह टूटी नजर आया। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी वीणा कुमारी ने बताया कि सिकंदरा में मानव श्रृंखला 80% सफल रहा। मानव श्रृंखला को लेकर 31 सेक्टर बनाए गए थे। 32 किलोमीटर की मानव श्रृंखला में 58358 लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। पब्लिक एवं बच्चों की संख्या 44358 एवं विद्यालय परिसर में 1 से 4 के लगभग 14000 बच्चों ने भाग लिया।
नियोजित शिक्षक एवं विपक्षी दल के लोगों ने मानव श्रृंखला से दूरी बनाए रखा। वहीं मानव श्रृंखला में तीर्थंकर महावीर विद्या मंदिर वीरायतन लछुआड़, राम कृष्णा पब्लिक स्कूल सिकंदरा, लखरानी प्रगतिशील आवासीय विद्यालय धनवे महादेव सिमरिया, शांति विद्या मंदिर सिकंदरा आदि विद्यालय के छात्र छात्राओं ने काफी संख्या में भाग लिया।

वही मानव श्रृंखला में जदयू के प्रदेश संगठन सचिव सिंधु पासवान, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष नवल किशोर सिंह, जदयू के वरिष्ठ नेता चंद्रदेव सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता हरदेव सिंह, अंबिका यादव, सुरेश महतो  अनुज सिंह, विवेक सिंह, अनिल दीक्षित, टीएमभीएम के प्राचार्य जितेंद्र सिंह, कृष्ण कुमार चंद्रवंशी, चमारी महतो, सुचित कुमार, लखरानी विद्यालय के मनोहर सिंह एवं भाजपा, जदयू सहित सहयोगी पार्टी के कार्यकर्ता नेता एवं ग्रामीण महिलाओं ने काफी संख्या में भाग लिया।