बड़ी खबरें

गिद्धौर : बीडीओ भारती राज की अध्यक्षता में हुई टास्क फोर्स की बैठक, जनजागरूकता का लिया गया निर्णय

गिद्धौर/जमुई [सुशान्त साईं सुन्दरम] :
जमुई डीएम धर्मेंद्र कुमार के निर्देशानुसार गिद्धौर में प्रखंड स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया गया। यह टास्क फोर्स बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के रोकथाम तथा उन्हें समाप्त करने के लिए कार्य करेगा। सोमवार को गिद्धौर प्रखंड कार्यालय के सभाकक्ष में टास्क फोर्स की मासिक समीक्षा बैठक प्रखंड विकास पदाधिकारी भारती राज की अध्यक्षता में आयोजित की गई।
बैठक की कार्यवाही की शुरुआत सभी पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के स्वागत के साथ कि गई। जिसके बाद 'बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन' विषय पर प्रखंड समन्वयक द्वारा विस्तार से चर्चा की गई। इस दौरान उन्होंने बताया कि गिद्धौर प्रखंड के सभी पंचायतों में वहां के मुखिया की अध्यक्षता में पंचायत स्तरीय टास्क फोर्स का गठन कर लिया गया है।

मौके पर अपने विचार रखते हुए गिद्धौर प्रखंड प्रमुख शंभू केशरी ने बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के रोकथाम के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार पर बल देने की बात कही। उन्होंनेे कहा कि इसके लिए सार्वजनिक स्थानों पर होर्डिंग लगवाए जाएं, पंपलेट बांटे जाएं। जनप्रतिनिधि सार्वजनिक मंचों से इस पर चर्चा करें।
वहीं प्लस टू अखिलेश्वर उच्च विद्यालय रतनपुर के प्रधानाध्यापक ध्रुव कुमार पांडेय ने बैठक में उपस्थित लोगों को जानकारी देते हुए कहा कि हमारे विद्यालय में प्रत्येक शनिवार को प्रार्थना-सत्र में उपस्थित छात्र-छात्राओं को बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन विषय पर जानकारी दी जाती है। साथ ही उन्हें नियमित यह शिक्षा दी जाती है कि परिवार अथवा आसपास अगर बाल विवाह की बात सामने आए तो आप उन्हें समझाएं। उन्होंने आगे कहा कि इस तरह का प्रयास सभी विद्यालयों में किया जाना चाहिए। इससे बच्चों में भी जागरूकता आएगी।

पतसंडा पंचायत की विकास मित्र दिव्या किरण ने कहा कि सभी विकास मित्रों द्वारा पंचायत के लोगों में खासकर महादलित टोले में जागरूकता लाने का कार्य किया जा रहा है। प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी आनंदी हरिजन ने कहा कि बैठक की हर बातें धरातल पर नहीं पहुंच पाती हैं, इसके लिए बोर्ड स्तर पर इस कुप्रथा को मिटाने का प्रयास करना होगा। सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के साथ-साथ इस कुप्रथा को मिटाने को लेकर बनाए गए कड़े कानून की भी जानकारी भी लोगों को दी जानी चाहिए। कम उम्र में शादी से होने वाले बुरे परिणामों के बारे में भी को लोगों को बताया जाना चाहिए।
बैठक की अध्यक्षता कर रहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी सुश्री भारती राज ने कहा कि लॉर्ड मिंटो टावर चौक पर होर्डिंग्स लगाए जाएं ताकि अधिक से अधिक लोग जागरूक हो सकें। इसके अलावा सभी विद्यालयों में शपथ दिलाया जाए, आंगनबाड़ी केंद्रों पर आने वाली महिलाओं को जागरूक किया जाए, शादी करवाने वाले पंडितों को विशेष हिदायत दी जाए कि अगर आप बाल विवाह या दहेज लेने वाले विवाह करवाते हैं तो सबसे पहले आप पर कार्यवाही होगी।

प्रखंड टास्क फोर्स की इस बैठक में गिद्धौर थानाध्यक्ष आशीष कुमार, सेवा पंचायत के मुखिया परमेश्वर पंडित, मौरा पंचायत के मुखिया कांता सिंह, बल विकास परियोजना पदाधिकारी, प्लस टू महाराज चंद्रचूड़ विद्या मंदिर के शिक्षक आफताब आलम, प्लस टू उच्च विद्यालय धोबघट के प्रभारी प्राचार्य देव कुमार कोल्हुआ पंचायत के विकास मित्र मनोज कुमार मांझी, मौरा की विकास मित्र बेबी कुमारी, गंगरा के सुधीर मांझी, कुंधुर के दिनेश मांझी, सेवा की विकास मित्र पुनिता देवी सहित अन्य लोगों ने हिस्सा लिया।