बड़ी खबरें

पलक तिवारी भोजपुरी फिल्‍म ‘वंश’ में गौरव झा के संग आयेंगी नजर, जानिये पलक के बारे में


मनोरंजन [अनूप नारायण] :
बिहारी की माटी में काफी उर्वरा है, इसमें कोई दो राय नहीं है। खास कर जब बात कला और संस्‍कृति की हो, तो बिहार के कलाकारों का जलवा दुनिया भर में देखने को मिलता है। ऐसी ही एक कलकार हैं पलक तिवारी, जो मुजफ्फरपुर जिले से आती हैं। और वे इन दिनों फिल्‍मी दुनिया में अपने साथ – साथ प्रदेश का नाम भी रौशन कर रही हैं। फिलहाल वे एटम्‍स स्‍टूडियोज प्रस्‍तुत निर्देशक राज किशोर प्रसाद की भोजपुरी फिल्‍म ‘वंश’ गौरव झा और ऋतु सिंह के साथ नजर आने वाली हैं, जिसके लिए वे अभी से तैयारियों में जुट गई हैं। यह फिल्‍म अगले साल जनवरी में शूट पर जायेगी।

पलक काफी प्रतिभाशाली अदाकारा हैं और वे अपनी मेहनत के दम पर इंडस्‍ट्री में अपना मुकाम बनाने विश्‍वास रखती हैं। उनका ये जज्‍बा उन्‍हें अपने पिता उपेंद्र तिवारी से मिली है। पलक ने स्‍कूलिंग दिल्‍ली से की है, लेकिन उनका जन्‍म मुजफ्फरपुर में हुआ था। दिल्‍ली में 15 साल रहने के बाद उनका पूरा परिवार मुंबई आ गया था। साथ ही पलक के सपने भी मायानगरी के करीब आ गई थी।  यहां से उन्‍होंने फिल्‍मी करियर का आगाज किया और आज वे कई फिल्‍मों में लोगों का ध्‍यान अपने ओर खींचने में सफल भी हुई हैं। वे अब तक लव में दंगा और ओ हरे दुपट्टे वाली कर चुकी हैं और वंश भी शूट को तैयार है।

पलक बॉलीवुड के लिए भी काम कर चुकी हैं और उनकी फिल्‍म मां पूर्णा गिरी रिलीज भी हो चुकी है। भोजपुरी फिल्‍म रंग में भी उनके किरदार को बेहद सराहा गया था। अभी हाल ही में उनकी एक फिल्‍म सुपर स्‍टार खेसारीलाल यादव के साथ आया था, जिसका नाम मेरी जंग – मेरा फैसला था।  उनकी एक और फिल्‍म डाकू राम किशन रिलीज हो तैयार है, जो जल्‍द ही रिलीज होने वाली है।  इसके अलाव भी पलक और कई फिल्‍मों में दमदार किरदार में नजर आने वाली हैं। पलक के लिए हर वो फिल्‍में मायने रखती हैं, जिनकी पटकथा मजबूत हो। पहलक कहती हैं कि फिल्‍म को मैं जीना चाहती हूं और सही मायने में पर्दे पर जीती भी हूं।