Merit Go

Breaking News

झाझा में मनाई गई डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती

झाझा (न्यूज़ डेस्क) :-
झाझा स्थित शास्त्री सदन में बुधवार को भारत के प्रथम राष्ट्रपति देशरत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती मनायी गयी। इस अवसर पर वक्ताओं ने स्वतंत्रता संग्राम एवं संविधान निर्माण में उनके योगदान को याद किया।
इस मौके पर राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष धर्मदेव यादव ने कहा कि डॉ. राजेंद्र प्रसाद राष्ट्रपिता गांधीजी के काफी करीबी थे।उन्होंने गांधीजी से प्रभावित होकर उनके सत्य-अहिंसा और सत्याग्रह के प्रयोग को पूर्ण रूप से आत्मसात कर लिया था। राष्ट्रपति रहते हुए उन्होंने देश की तरक्की में अपनी भूमिका का निर्वहन करते हुए कई देशों से भारत के संबंधों को प्रगाढ़ किया। राष्ट्रपति पद से सेवानिवृत्ति के बाद बहुत ही सादगी के साथ उन्होंने अपना अंतिम जीवन सदाकत आश्रम, पटना में व्यतीत किया।
जयंती समारोह में मुख्य रूप से ऐनुल हक प्रखंड, अध्यक्ष,उदय शंकर झा, वरिष्ठ कांग्रेस नेता देवानंद यादव, रामू विश्वकर्मा, मुकेश कुमार माथुरी ,धर्मेंद्र कुमार, कंचन कुमार यादव आदि शामिल हुए।