Merit Go

Breaking News

सोनो : आस्था का प्रतीक हैं अगहरा की दुर्गा मंदिर

सोनो (मदन शर्मा) :-
प्रखंड मुख्यालय से महज पांच से सात किलोमीटर दुरी स्थित अगहरा दुर्गा मंदिर आस्था का केन्द्र बना हुआ है। गुरुवार को श्रद्धालुओं ने नदी में स्नान करके माँ नदी से दुर्गा मंदिर परिसर में दण्डवत देने वाली महिलाओं की बड़ी भीड़ देखी गई है। दुर्गा पूजा के अवसर पर दूर-दराज से लोग आते हैं और पूजा अर्चना करते हैं। जिन महिलाओं की गोद सुनी है उसे माता की कृपा से  संतान की प्राप्ति होती हैं। मंदिर की सजावट आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। कलाकारों द्वारा जागरण का प्रोग्राम किया जाता है


 मंदिर की समितियों द्वारा श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसके लिए पूरी मुस्तैदी के साथ रहते हैं। अगहरा निवासी स्व ० सुकदेव रजक ने सुदूरवर्ती क्षेत्र में लोगों के लिए पूजा अर्चना करने के लिए शुरुआत किया था जिसमें ग्रामीणों की भूमिका अहम रोल अदा की थी। सुकदेव रजक मृत्यु हो जाने के बाद पूर्व मुखिया नकुल यादव ने अपने देखरेख मे कमिटी निर्माण कर भव्य पूजा शुरुआत हो गई है। पूजा कमिटी के अध्यक्ष जितेंद्र स्वर्णकार ने बताया है कि ग्रामीणों की सहयोग के साथ प्रशासन की सहयोग मिलने से प्रत्येक वर्ष भव्य पूजा होती है।माता की छठवें पूजा के दिन कुमारी कन्याओं व महिलाओं द्धारा कलश यात्रा भी निकाली जाती है। इस मंदिर की विशेषता है कि बकरे की बलि प्रथा नहीं होती है। पंडित श्याम सुंदर पाण्डेय ने बताया है कि जो भी लोग अतिकष्ट में रहते हैं और सच्चे दिल से माँ को याद करते हैं उनके मन की मुराद पूरी हो जाती है।