Merit Go

Breaking News

2019 लोकसभा चुनाव में कन्हैया कुमार के हुंकार से गूंजेगा बेगुसराय


[न्यूज डेस्क | शुभम् कुमार]
Edited by - Abhishek Kumar Jha.

कभी वामपंथियों का गढ़ माने जाने वाले बेगूसराय अब कन्हैया कुमार के चुनावी हुंकार से गूंजने वाला है। जी हां, वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा के चुनावी मैदान में भाकपा के उम्मीदवार के तौर पर महागठबंधन के सहयोग से जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार आने वाले हैं। ये वही कन्हैया जी हैं जो जेएनयू में देश विरोधी नारे लगने के बाद सुर्खियों में आए थे। अब वे बेगूसराय से लोकसभा चुनाव लडेगें।
भाकपा के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह की यदि मानें तो, उनकी पार्टी सहित सभी वामदल चाहते हैं कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ें। उन्होंने कहा कि राजद और कांग्रेस जैसे अन्य दल भी चाहते हैं कि वह चुनाव लड़ें। राजद प्रमुख लालू प्रसाद के भी इस संबंध में अपनी सहमति दिए जाने की चर्चा के बारे में सत्यनारायण ने मीडिया से कहा कि पूर्व में उनसे हुई वार्ता के दौरान वह एक सीट कन्हैया कुमार के लिए छोड़ देने को लेकर राजी थे। उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने अगले आम चुनाव में बिहार में छह लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है, लेकिन इस बारे में अंतिम निर्णय हमख्याल दलों के साथ वार्ता के बाद लिया जायेगा।
हालांकि जानकारी अनुसार, कन्हैया बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार होंगे पर महागठबंधन के घटक दलों राजद, कांग्रेस, हम सेक्युलर और राकांपा तथा अन्य वामदल का उन्हें समर्थन प्राप्त होगा।  जिन छह सीटों पर भाकपा अपना उम्मीदवार उतारना चाहती है, उनमें बेगूसराय, मधुबनी, मोतिहारी, खगड़िया, गया और बांका शामिल हैं।

पाठकों को जानकारी से अवगत करते चलें कि, 2016 में JNU के अध्यक्ष रहते देशविरोधी नारे लगाकर चर्चा में आये कन्हैया कुमार बेगूसराय जिला के बरौनी प्रखंड अंतर्गत बिहट पंचायत के मूल निवासी हैं। कन्हैया की मां एक आंगनवाड़ी सेविका तथा उनके पिता एक छोटे किसान हैं।