जमुई में स्मार्ट मीटर की "बाईपास सर्जरी", ऊर्जा विभाग ने अब तक किया 31 शातिरों का खुलासा



जमुई/बिहार (Jamui/Bihar), जमुई में बिजली चोरी करने वाला गिरोह सरकारी तंत्र से ज्यादा स्मार्ट हो गया है। जिला में अभी स्मार्ट मीटर ठीक से लग भी नहीं पाया है और बिजली चोरों ने बाईपास " सर्जरी " चालू कर दिया। यानी बाइपास के जरिये स्मार्ट मीटर को ठेंगा दिखाते हुए बिजली चोरी का खेल शुरू हो गया है। कार्यपालक अभियंता समीर कुमार ने जमुई जिला में ऐसे कई शातिरों का खुलासा किया है।

उन्होंने इस आशय की जानकारी देते हुए कहा कि उपभोक्ता बेजा हरकत के जरिए बिजली चोरी करने का खेल कर रहे हैं। जिले के विभिन्न विद्युत आपूर्ति प्रशाखाओं में स्मार्ट मीटरों को निशाना बनाया जा रहा है। ऊर्जा चोरी खेल के तहत कहीं स्मार्ट मीटर को धीमा किया जा रहा है तो कहीं सीधे मेन लाइन से संपर्क स्थापित कर बिजली का उपभोग किया जा रहा है।

कार्यपालक अभियंता ने बताया कि जिन इलाकों में स्मार्ट मीटर लगाए गए हैं , उनका रैंडम जांच किया जा रहा है। ऑन लाइन सिस्टम के चलते स्वतः मामला उजागर हो रहा है। अनुमान के मुताबिक रिचार्ज नहीं होने की स्थिति में बिजली विभाग द्वारा गठित धावा दल नामित उपभोक्ता के घर अथवा प्रतिष्ठान जाकर जांच कर रहे हैं और गड़बड़ी का पर्दाफास कर उनपर कानून अनुकूल मुकदमा दर्ज करा रहे हैं। उन्होंने पंचायत दर पंचायत सूची बनाकर जांच अभियान को तेज किए जाने का ऐलान करते हुए कहा कि दोषी को बक्सा नहीं जाएगा।

कार्यपालक अभियंता ने इसी संदर्भ में बताया कि गिद्धौर विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की टीम ने स्मार्ट प्रीपेड मीटर बाइपास के साथ अन्य तरीके से बिजली चोरी करते बेबी देवी , अनिल दास , सरयुग दास , निर्मला देवी , बिंदु देवी , हेमा देवी और मीना देवी को रंगे हाथ पकड़ा। टीम ने इन लोगों पर क्रमशः 22318 , 21105 , 26926 , 21146 , 10076 , 25699 तथा 14976 रूपये जुर्माना लगाया और सुसंगत धाराओं के अंतर्गत नामित थाने में यथोचित कार्रवाई के लिए प्राथमिकी दर्ज कराई है।

झाझा विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की टीम ने उपभोक्ता श्यामलेस कुमार माथुरी और धर्मेंद्र राम को भी विद्युत चोरी करते पकड़ा और इन दोनों पर क्रमशः 283431 और 48550 रूपया जुर्माना लगाने के साथ संबंधित थाने में उचित कार्रवाई के लिए प्राथमिकी दर्ज कराई है।

जमुई शहरी विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की टीम ने मो. अशरफ अंसारी और मो. सरफुद्दीन को बिजली चोरी करते पकड़ा और इन दोनों पर भी क्रमशः 28290 तथा 6950 रूपया जुर्माना लगाया। संबंधित उपभोक्ता पर भी प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

जमुई ग्रामीण विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की टीम ने गनौरी राम , निविया देवी , टेकन मांझी और राजकुमार मांझी को बिजली चोरी करते पकड़ा। इन लोगों पर भी क्रमशः 24580 , 15326 , 40856 और 14720 रूपया जुर्माना लगाया। इन सबों पर भी यथोचित कार्रवाई के लिए प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

खैरा विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की टीम ने भी कमरुद्दीन खान , नूरजहां खातून , संतोष सिंह और बालदेव मंडल को बिजली चोरी करते पकड़ा। इन सबों पर भी विभाग ने क्रमशः 19111 , 14603 , 2854 और 9177 रूपया जुर्माना लगाया साथ ही उचित कार्रवाई के लिए प्राथमिकी दर्ज कराई है।

सिकंदरा विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की टीम ने अभियान के अंतर्गत अरविंद यादव , दशरथ राम , योगेंद्र यादव , ईश्वर यादव , हरी नंदन यादव और फुलेश्वर यादव को अवैध ढंग से बिजली का उपभोग करते धरा। इन लोगों पर विभाग ने क्रमशः 10637 , 9043 , 11798 , 13173 , 13783 और 13478 रूपया जुर्माना लगाया। विभागीय टीम ने संबंधित लोगों पर वांछित धाराओं के तहत प्राथमिकी भी दर्ज कराई है।

कार्यपालक अभियंता ने अंत में लक्ष्मीपुर विद्युत आपूर्ति प्रशाखा की चर्चा करते हुए कहा कि यहां भी आनंदी तांती , गुरुचरण तांती , जयराम तांती , नरेश तांती , सुमा देवी और सहदेव रविदास को ऊर्जा चोरी में लिप्त पाया गया। इन लोगों पर भी क्रमशः 14212 , 8072 , 7816 , 7206 , 11594 और 22891 रूपया जुर्माना लगाया गया साथ ही प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई है।

ई. कुमार ने तल्ख लहजे में कहा कि जिले के उपभोक्ता बकाया विपत्र का शीघ्र भुगतान करें साथ ही उपयुक्त कनेक्शन लेकर ही बिजली का इस्तेमाल करें। उन्होंने स्मार्ट प्रीपेड मीटर के साथ छेड़छाड़ नहीं किए जाने की अपील करते हुए कहा कि यह घोर अपराध है। कार्यपालक अभियंता ने अभियान को और तेज किए जाने का ऐलान किया।

Post a Comment

Previous Post Next Post