जमुई में दिव्यांग बैट्री चालित ट्राई साइकिल से करेंगे सफर, चेहरे पर नजर आई मुस्कान



जमुई (Jamui), 20 दिसंबर 2023, बुधवार : जमुई जिला में दिव्यांगों का सफर अब आसान हो गया। दूरी तय करने के लिए अब उन्हें ज्यादा शारीरिक परिश्रम नहीं करना होगा। क्योंकि इनकी सफर अब बैट्री चालित ट्राई साइकिल से होगी। जमुई में ऐसे ही कुल 53 दिव्यांगों को चिन्हित कर उन्हें बैट्री चालित ट्राई साइकिल दिया गया। ये सभी वैसे दिव्यांगजन हैं जो कहीं ना कहीं रोजगार और शिक्षा से जुड़े हुए हैं। ट्राई साइकिल मिलते ही दिव्यांगों के चेहरे पर एक छोटी सी मुस्कान नजर आई और जिले के डीएम राकेश कुमार को धन्यवाद दिया।


पहले यह दिव्यांग बिना बैट्री ट्राई साइकिल से चलते थे। इससे इन्हें काफी परेशानी होती थी। लेकिन बैट्री चालित ट्राई साइकिल मिलने के बाद अब इनकी राह आसान हो गई। वे सभी इसके माध्यम से इसे एक बार चार्ज करने के बाद 50 किलोमीटर तक की दूरी आसानी से तय कर सकेंगे। शिक्षा और रोजगार से जुड़े दिव्यांगों को अपने गंतव्य स्थल तक आने -जाने में सहूलियत होगी।


डीएम राकेश कुमार ने कहा कि  रोजगार करने वाले दिव्यांगजन , पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्रा या कोई व्यवसाय करने के लिए संबंधित लोग रोज एक जगह से दूसरे जगह परिवहन करके आते हैं। उन्हें यात्रा में दिक्कत होती है। ऐसे लोगों को चिन्हित कर आवेदन स्वीकृत कराकर बैट्री चालित ट्राई साइकिल दिया गया है। हम ऐसे लोगों को मदद करने के लिए हमेशा प्रयासरत हैं। उन्होंने दिव्यांगनों के स्वस्थ एवं दीर्घायु जीवन की कामना की।


डीडीसी शशि शेखर चौधरी ने कहा कि बैट्री चालित ट्राई साइकिल मिलने से दिव्यांगजन भी सामान्य जिंदगी जी सकेंगे। उन्होंने दिव्यांगजनों को हर संभव सहायता दिए जाने का ऐलान किया।


एसडीएम अभय कुमार तिवारी ने दिव्यांगजनों को विकास की मुख्य धारा में शामिल होकर जिला के साथ राज्य के विकास में  सहयोग करने का संदेश दिया।


सामाजिक सुरक्षा कोषांग के सहायक निदेशक सूरज कुमार ने आगत मेहमानों का गर्मजोशी से स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना

वैसे दिव्यांगजन जिनकी दिव्यांगता 60 प्रतिशत , वार्षिक आय अधिकतम 02 लाख , 18 वर्ष से अधिक आयु हो तथा वर्तमान में बिहार के किसी महाविद्यालय के छात्र-छात्रा या स्वरोजगार से जुड़े हों। जिनका रोजगार स्थल या महाविद्यालय 03 किलोमीटर के दायरे में है उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाता है। इसके लिए दिव्यांग जन सशक्तीकरण निदेशालय के साइट पर जाकर आवेदकों को पंजीकरण करना होता है।


online.bih.nic.in/SWF/SWFTC/Default.aspx लिंक से भी आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आवेदकों को जन्म प्रमाण पत्र , आधार कार्ड आदि का जिक्र करना होगा। उन्होंने चयनित लाभार्थियों को बैट्री चालित ट्राई साइकिल दिए जाने का उल्लेख करते हुए कहा कि सुपात्र को सहयोग करना जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है।


जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी आर. के. दीपक , जिला शिक्षा पदाधिकारी कपिलदेव तिवारी , जमुई सदर प्रखंड के बीडीओ श्री श्रीनिवास , जिला बुनियाद केंद्र के जिला प्रबंधक मुनमुन पांडे , ऑक्सफोर्ड पब्लिक स्कूल के निदेशक डॉ. मनोज कुमार सिन्हा समेत अधिकांश संबंधित अधिकारी , कर्मी और बड़ी संख्या में दिव्यांगजन मौके पर उपस्थित थे।


जाने-माने राज्य उद्घोषक डॉ. निरंजन कुमार ने कार्यक्रम का मंच संचालन किया और प्रशंसा के पात्र बने। सभी महानुभावों ने उनके साहित्यिक लहजे की जमकर तारीफ की और उन्हें शुभकामना दी। कार्यक्रम उमंग के वातावरण में संपन्न हो गया।

Post a Comment

Previous Post Next Post