जमुई : अग्नि सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने डीएम की देख-रेख में हुआ मॉक ड्रिल

जमुई/बिहार (Jamui/Bihar), 1 जून 2023 : जिला कलेक्टर अवनीश कुमार सिंह की देख-रेख में समाहरणालय स्थित संवाद कक्ष में शुक्रवार को अग्नि सुरक्षा पर मॉक ड्रील का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने मॉक ड्रिल का शुभारंभ करते हुए कहा कि अग्नि से सुरक्षा के लिए यह अत्यंत लाभकारी कार्यक्रम है।

उन्होंने अगलगी की घटना को रोकने के लिए आमजनों को सजग और सचेत रहने की हिदायत देते हुए कहा कि इस प्राकृतिक आपदा से बचाव के लिए अत्यधिक ज्वलनशील चीजों से दूर रहें। श्री सिंह ने जिले में अगलगी की पुरानी घटनाओं का जिक्र किया और इससे सबक लेने का संदेश दिया। उन्होंने जन जागरूकता कार्यक्रम सभी संस्थानों में चलाए जाने का निर्देश दिया।

एडीएम सत्येंद्र कुमार मिश्र ने अगलगी की घटना को प्राकृतिक आपदा की संज्ञा देते हुए कहा कि भोजन बनाने के बाद आग को अच्छी तरह से बुझा देना चाहिए। उन्होंने आग से लाभ और हानि को गिनाया। 

आपदा प्रबंधन के प्रभारी पदाधिकारी आर. के. दीपक ने इस अवसर पर आगलगी से घायल व्यक्ति के इलाज का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और इससे हुए नुकसान की जानकारी दी। वहीं आपदा प्रबंधन के सलाहकार विकास कुनार ने आपात स्थिति में "क्या करें और क्या न करें " पर प्रकाश डाला साथ ही लोगों को जागरूक किया।

अनुमंडल अग्निशमन अधिकारी एवं उनकी टीम ने मौके पर जीवंत प्रदर्शन के जरिए अगलगी से बचाव की जानकारी दी और लोगों का क्षमतावर्धन किया। टीम ने समाहरणालय परिसर का गहन निरीक्षण किया और यहां अगलगी से संबंधित क्षेत्रों को चिन्हित कर वहां बचाव के उपाय सुझाए।अनुमंडल अग्निशमन पदाधिकारी और उनकी टीम ने मुख्य रूप से गैस सिलिंडर में आग लगने , तेल व अन्य वस्तुओं में आग लगने के बाद उससे बचाव व बुझाने के तरीके बताए।
कर्मियों ने आग लगने के बाद ऑन स्पॉट आग से खुद को बचाव करने का प्रदर्शन किया। साथ ही आग बुझाने के तरीकों को आम लोगों के साथ साझा किया। संबंधित अधिकारी ने आगे कहा कि भवनों की ऊंचाई बढ़ रही है। यहां छोटे - छोटे कमरों में काम हो रहा है। इस स्थिति में ऊंचे भवनों में आग लगने की संभावना रहती है। इसे ध्यान में रखते हुए समाहरणालय के अधिकारी , कर्मचारियों सहित अन्य लोगों को अग्नि सुरक्षा को लेकर जागरूक रहने की जरूरत है।

मौके पर बताया गया कि गैस सिलिंडर के पाइप के पहले रेग्युलेटर के पास व पाइप के बाद आग लगे तो कैसे काबू करना है। वहीं तेल में आग लगने के बाद फोम के माध्यम से आग बुझाने की विधि व अन्य वस्तुओं में आग लगने के बाद उसे बुझाने की विधि की जानकारी दी गई। कार्यक्रम में लोगों के बीच अग्नि सुरक्षा से संबंधित पर्चे वितरित किए गए। बताया गया कि आग लगने की स्थिति में 101 नंबर डायल कर अग्नि सुरक्षा कर्मियों को सूचना दिया जाना आवश्यक है।

समाहरणालय स्थित तमाम कार्यालय के पदाधिकारी और कर्मियों ने मॉक ड्रिल में सशक्त उपस्थिति दर्ज की और अपना क्षमतावर्धन किया।

Post a Comment

Previous Post Next Post