जमुई : नशा मुक्त बिहार को लेकर 20 को आयोजित होगा हाफ मैराथन दौड़, जानिए डिटेल

जमुई (Jamui), 17 नवंबर : जमुई डीएम अवनीश कुमार सिंह ने समाहरणालय स्थित कार्यालय प्रकोष्ठ में आगामी 20 नवंबर को नशा मुक्त बिहार हाॅफ मैराथन दौड़ (फिट बिहार दौड़) के सफल आयोजन को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। डीएम ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि नाश से बचने के लिए नशा को ना कहने की जरूरत है।

इसी संदेश को जन-जन तक पहुंचाने के लिए कला संस्कृति एवं युवा विभाग बिहार तथा बिहार राज्य खेल प्राधिकार पटना ने जागरूकता अभियान चलाने के लिए फिट बिहार दौड़ का आयोजन किए जाने का निर्णय लिया है। विभाग से प्राप्त निर्देश के आलोक में जिला प्रशासन के द्वारा जमुई में हाॅफ मैराथन दौड़ का आयोजन किया जा रहा है।

✓ ये होगा मैराथन दौड़ का रूट
इसका मुख्य उद्देश्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे नशा मुक्ति अभियान को गति देना है। इसके साथ ही प्रतिभागियों के शारीरिक एवं बौद्धिक विकास का संवर्द्धन किया जाना है। इस क्रम में निर्णय लिया गया कि 20 नवंबर की सुबह 6 बजे जमुई-गिद्धौर मुख्य मार्ग पर कटौना के पास सभी धावक-धाविका, अधिकारी एवं कर्मी जुटेंगे और यहीं से इसका आरंभ किया जाएगा। 

दौड़ के आयोजन को लेकर समिति का गठन किया गया है , जिसके डीएम अध्यक्ष होंगे। समिति में एसपी , उत्पाद अधीक्षक , जिला खेल पदाधिकारी आदि जनों को दायित्वों के साथ शामिल किया गया है। एसडीएम हाॅफ मैराथन दौड़ के अवसर पर विधि व्यवस्था का संधारण करेंगे। इसके अलावे दौड़ को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों को प्रतिनियुक्त किया जा रहा है।

✓  इन आयु वर्ग के महिला-पुरुष ले सकेंगे भाग
डीएम ने कहा कि हाॅफ मैराथन दौड़ दो श्रेणियों में आयोजित किया जाएगा। प्रथम श्रेणी में 5 किलोमीटर दौड़ होगा, जिसमें 16 वर्ष या उससे कम उम्र के बालक एवं बालिका शामिल होंगे। जबकि द्वितीय श्रेणी के तहत 10 किलोमीटर की दौड़ होगी। जिसमें में 16 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के पुरूष या महिला प्रतिभागी भाग ले सकेंगे।

✓ टॉप-3 को नगद के अलावा मिलेगा सांत्वना पुरस्कार 
इसमें प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले विजेता यथा धावक एवं धाविका को 5-5 हजार रुपए, द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले धावक एवं धाविका को 3-3 हजार एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले धावक एवं धाविका को 2-2 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। जबकि चतुर्थ से दशम स्थान प्राप्त करने वाले धावक एवं धाविकाओं को भी सांत्वना दिया जायेगा। 

उन्होंने कहा कि दौड़ के लिए निर्धारित मार्ग पर यातायात संचालन की देखरेख पुलिस अधिकारी एवं जवान करेंगे। जबकि दौड़ के दौरान प्रतिभागियों के आगे - आगे एक वाहन हूटर के साथ चलेंगे जो दोनों ही प्रकार के दौड़ के लिए होंगे। डीईओ देय दायित्यों का निर्वहन करेंगे।

✓ 19 नवंबर तक होगा आवेदन
प्रतिभागी 19 नवंबर तक आवेदन कर सकेंगे। आवेदन के लिए श्रीकृष्ण सिंह स्टेडियम में कार्यालय कार्यरत है। सिविल सर्जन दौड़ के मौके पर मेडिकल टीम के साथ आवश्यक चिकित्सीय व्यवस्था तथा दौड़ के समय आगे - पीछे एक - एक एम्बुलेंस रखने का प्रबंध करेंगे। पेयजल एवं अग्निशमन का भी पुख्ता इंतजाम किया जाना है।

उत्पाद अधीक्षक संजीव कुमार ठाकुर, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी आर. के. दीपक, जिला खेल पदाधिकारी आदि सम्बंधित जन बैठक में उपस्थित थे।

Post a Comment

Previous Post Next Post