गिद्धौर के ऐतिहासिक दुर्गा मंदिर में नवरात्र पर संध्या आरती का हो रहा आयोजन

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 1 अक्टूबर
★ रिपोर्ट : बिक्की कुमार
● संपादन : सुशांत साईं सुंदरम
शारदीय नवरात्र को लेकर गिद्धौर का माहौल भक्तिमय बना हुआ है। उलाई, नागी व नकटी नदी के संगम तट पर अवस्थित मां दुर्गा मंदिर में शारदीय नवरात्र के पहले दिन से ही संध्या आरती का नियमित आयोजन किया जा रहा है। शाम होते ही दुर्गा मंदिर में महिलाओं व कन्याओं द्वारा दीप जलाकर मां की आरती की जा रही है। आरती के दौरान पूरा दृश्य मंत्रमुग्ध करने वाला रहता है। 

गिद्धौर के चंदेल राज रियासत द्वारा स्थापित गिद्धौर के ऐतिहासिक अति प्राचीन दुर्गा मंदिर में मां दुर्गा के दर्शन कर उन्हें संध्या आरती अर्पित करने के लिए गिद्धौर सहित आसपास व दूर दराज से आये हुए श्रद्धालु भक्तों का मंदिर परिसर में तांता लगा रहा।

बताते चलें की इस मंदिर परिसर में संध्या आरती का विहंगम दृश्य यहां देखने को मिलता हैं। मां परसंडा को नमन कर यहां जो भी श्रद्धालु भक्त सच्चे मन से मां से अपनी कामना करता है उन भक्तों की मां परसंडा हर मुरादें पूरी करती है।
वहीं शारदीय दुर्गा पूजा सह लक्ष्मी पूजा समिति के द्वारा विगत कुछ महीनों से सप्ताह के प्रत्येक मंगलवार एवं शनिवार को मां की आरती करवायी जाती है। जिसमें लगभग एक हजार श्रद्धालु मां की आरती में भाग लेते है। संध्या आरती की प्रस्तुती टी सिरीज म्यूजिकल ग्रुप के सुप्रसिद्ध भजन गायक गणेश रॉय एंड टीम द्वारा की जाती है, जिससे पूरा माहौल भक्तिमय हो जाता है।

शारदीय दुर्गा पूजा सह लक्ष्मी पूजा समिति सदस्यों की ओर से श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो इसका खास ख्याल रखा जा रहा है।

Post a Comment

Previous Post Next Post