Breaking News

सीएम नीतीश ने नरेंद्र सिंह को दी श्रद्धांजलि, बोले - राज्य ने मूल्यवान शख्सियत खो दिया

जमुई (Jamui), 18 जुलाई : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पकरी गांव पहुंचकर बिहार सरकार के पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह के चित्र पर माल्यार्पण किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। सीएम नीतीश के साथ बिहार सरकार के कैबिनेट मंत्री विजय कुमार चौधरी एवं अशोक चौधरी भी स्व. नरेंद्र सिंह के पकरी स्थित आवास पर पहुंचे और मंत्री द्वय ने भी उन्हें नमन किया।
सीएम नीतीश कुमार ने नरेंद्र सिंह को श्रद्धांजलि देने के बाद कहा कि राज्य ने एक सामर्थ्यवान नेता खो दिया है। मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान दें। सीएम ने ईश्वर से उनके परिवार को विपदा की घड़ी में इस दुख को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मौके पर कहा कि नरेंद्र सिंह जी ने जन कल्याणको अपना जीवन मंत्र बनाया था। उन्होंने बिहार और देश के विकास के लिए जीवनपर्यंत काम किया। वे ईमानदारी और अच्छे प्रशासन के पर्याय थे।

सीएम ने आगे कहा कि वे राज्य के कोने - कोने में विश्वास का एक नाम बन गए थे। जीवन के अधिकतम समय में वे जनकल्याण के लिए प्रयत्नशील रहे। मैं शब्दों से परे दुखी हूं। नरेंद्र सिंह जी… राजनेता , अनुभवी प्रशासक , जमीनी स्तर के नेता और महान इंसान थे। बिहार के विकास में उनका अमिट योगदान है।
उन्होंने उनके पुत्र सह पूर्व विधायक अजय प्रताप सिंह , बिहार सरकार के कैबिनेट मंत्री सुमित कुमार सिंह तथा अमित कुमार सिंह के अलावे सुमित कुमार सिंह के ससुर अधिवक्ता ओम कुमार सिंह अन्य परिजनों एवं सगे - संबंधियों से बात की और उन सबों को ढाढ़स बंधाया। उन्होंने हृदतलयत से स्व. सिंह के प्रति संवेदना व्यक्त की।

उधर मुख्यमंत्री का एक झलक पाने के लिए पकरी गांव समेत पूरा इलाका बेताब नजर आया। सड़क पर जन सैलाब उमड़ पड़ा। स्थनीय सुमीत कुमार सिंह यूथ बिग्रेड ने मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया और गगनभेदी नारे लगाए।
इधर मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के मद्देनजर जिला प्रशासन सजग और सचेत नजर आया। सीएम की सुरक्षा को लेकर चप्पे - चप्पे पर दंडाधिकारी के नेतृत्व में पुलिस बल तैनात किए गए थे।
जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह , एसपी डॉ. शौर्य सुमन , डीडीसी शशि शेखर चौधरी , एसडीएम अभय कुमार तिवारी , एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार , जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी आर. के. दीपक समेत कई वरीय प्रशासनिक अधिकारी दुरुस्त व्यवस्था को लेकर सक्रिय नजर आए। मुख्यमंत्री का तय कार्यक्रम शांतिपूर्ण वातावरण में संपन्न हो गया।