Breaking News

जमुई : पकरी गांव पहुंचे बिहार के मंत्री शहनवाज हुसैन, बोले - समाज के मुख्य स्तंभ थे नरेन्द्र बाबू

खैरा/जमुई (Khaira/Jamui)16 जुलाई 
◆ प्रह्लाद की रिपोर्ट
◆ संपादन :- शुभम मिश्र 
पूर्व केन्द्रीय मंत्री सह बिहार सरकार के उद्योग मंत्री शहनवाज हुसैन ने दिवंगत पूर्व मंत्री नरेन्द्र सिंह के जमुई के खैरा स्थित घर पकरी गांव पहुंच कर शोक संतप्त परिजनों से मुलाकात की और संवेदनाएं व्यक्त की।
सर्वप्रथम घर पहुँच कर उन्होंने उनके तस्वीर पर फूल माला पहनाकर श्रद्धांजलि अर्पित की एवं उनके तीनों पुत्र पूर्व विधायक अजय प्रताप सिंह, बिहार सरकार में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह एवं सबसे छोटे पुत्र समाजसेवी अमित कुमार सिंह से मिलकर उनके इस प्रगाढ़ पीड़ा को सहन करने के लिये ढाढ़स बंधाया।

उन्होंने यह भी कहा कि नरेन्द्र बाबू विकास पुरुष के साथ-साथ राजनीति के मुख्य स्तम्भ थे।तीनों भाईयों को उनके पिता के पद चिह्नों पर चलकर सूबे के विकास में योगदान करने की भी अपील की।
उन्होंने बताया कि जिस समय वे अस्पताल में इलाज़रत थे,उस समय भी उनसे मिलने आये हुए शुभचिंतकों से उनके हाल-चाल के साथ-साथ उनकी खेती-बाड़ी एवं उनके क्षेत्र में होने वाली वर्षा की स्थिति की जानकारी ली।

वहीं शोक संवेदनाएं व्यक्त करने आये बिहार सरकार के पूर्व मंत्री महाचंद्र प्रसाद सिंह ने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए कहा कि मैंने एक सच्चा साथी खो दिया है।मेरा उनके साथ काफ़ी मधुर संबंध रहा है।उनके समाजसेवा की विचारधारा हमेशा जीवित रहेगी।ईश्वर उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान दें।

जबकि शोकाकुल स्वजनों से मिलने आये पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि नरेंद्र बाबू की कृति हमेशा अमर रहेगी,वे एक प्रखर ज़मीनी राजनेता थे।उनके कार्यकाल में जमुई की धरा में विकास की गंगा बही है।
वहीं सभी नेताओं ने बारी-बारी से अपने चहेते नेता का गुणगान करते हुए उनकी तैल्य चित्र पर पुष्प माला पहनाई।बाद में सभी राजनेताओं ने दिवंगत नेता के होने वाले श्राद्ध कर्म की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।वहीं कुछ लोगों की मानें तो श्राद्ध-कर्म में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आने की संभावना भी व्यक्त की जा रही थी।

उक्त अवसर पर लक्ष्मण झा,मो.इरफान,राजेश सिंह,रंजन सिंह,श्याम सुंदर सिंह रामानंद सिंह,सहित दर्ज़नों की संख्या में लोग उपस्थित थे।