अलीगंज : खराब चापाकलों के शीघ्र मरम्मतीकरण की मांग, पेयजल के लिए ग्रामीण परेशान - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Saturday, 9 April 2022

अलीगंज : खराब चापाकलों के शीघ्र मरम्मतीकरण की मांग, पेयजल के लिए ग्रामीण परेशान



अलीगंज/जमुई (Aliganj/Jamui), 8 अप्रैल

◆ चंद्रशेखर सिंह की रिपोर्ट :

इन दिनों प्रचंड गर्मी पड़नी शुरु हो गई है। प्रखंड के प्रत्येक पंचायतों में गर्मी की दस्तक देते ही चापाकलो की स्थिति बेहद खराब है। प्रखंड क्षेत्र में एक भी सरकारी मिस्त्री नहीं रहने से कई चापाकल मरम्मत के अभाव में खराब पडा है।


समाजसेवी सह अधिवक्ता शशिशेखर सिंह मुन्ना एवं ग्रामीण अर्जुन सिंह, पूर्व सरपंच नरेश सिह, उपेन्द्र सिंह, गोरेलाल यादव, ब्रह्मदेव सिंह सहित दर्जनो लोगों ने बताया कि प्रखंड क्षेत्र में कई पंचायतों में मामुली खराबी के कारण चापाकल बेकार होकर अपने मरम्मति की बाट जोहती नजर आ रही है।


वहीं ग्रामीणों ने बताया कि इस भीषण गर्मी में पेयजल की भारी किल्लत हो गया है। जिससे ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वही शिकायत के बाद पीएचडी जेई रोहित कुमार सीधे मिस्त्री नही रहने एवं सामग्री नही रहने की बात कहकर चैन की बांसुरी बजाने में लगे है। वहीं सुदुर ग्रामीण क्षेत्र में ग्रामीणों को पेयजल के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।


ग्रामीणों ने बताया कि कई गांव में मामूली खराबी के कारण चापाकल खराब पडा है। नल-जल योजना की स्थिति प्रखंड क्षेत्र में बेहद चिन्ताजनक है। पानी के लिए सर्वत्र हाहाकार मचा हुआ है। लेकिन लोक स्वास्थय अभियंत्रण विभाग के अधिकारी चैन की बासुरी बजा रहे है। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांवों में खराब पड़े चापाकलों की मरम्मत कराने की मांग की है।


बता दें कि हाल के दिनों में जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह के  द्वारा जिले के विभिन्न प्रखंडों के लिए  खराब पड़े चापाकलों को ठीक करने के लिए उड़नदस्ता दल की टीम को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया था। लेकिन प्रखंड क्षेत्र के एक भी गांव में पीएचडी विभाग के अधिकारी व मिस्त्री द्वारा ठीक तो दूर गांव तक भी पहुंच सकी है। जिसकी चर्चा आमजनों के बीच जोरों पर है।

Post Top Ad