Breaking News

अलीगंज : मांगों को लेकर पीएचसी गेट पर संविदाकर्मी एएनएम व कोविड टीका वेरिफायरों ने दिया धरना

अलीगंज/जमुई (Aliganj/Jamui), 8 मार्च :
◆ चंद्रशेखर सिंह की रिपोर्ट :
अलीगंज प्रखंड के पीएचसी में 50 से अधिक संविदा पर बहाल एएनएम व कोविड टीका वेरिफायर्स को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा हटा दिया गया है। जिसको लेकर मंगलवार की अहले सुबह से एएनएम व वेरिफायर अस्पताल के मुख्य गेट पर अपनी मांगो को लेकर धरना पर बैठ गये।
एएनएम गुडिया कुमारी, संगीता कुमारी, सरिता कुमारी, पूनम कुमारी, गुलाब कुमारी, स्मिता कुमारी, निशा कुमारी, संगीता कुमारी, नीतू कुमारी, पूर्णिमा कुमारी, प्रेमलता कुमारी, सुलेखा कुमारी, वर्षा कुमारी, जहाबानो, सुषमा कुमारी एवं सत्यापनकर्ता मो बादशाह, खुशबू कुमारी, पुजा कुमारी, दिनेश कुमार, संतोष कुमार, प्रिया कुमारी, सागर कुमार, आशीष कुमार सहित सैकड़ो एएनएम व कोविड टीका वेरिफायर्स ने बताया कि भीषण कोरोना संक्रमण के दौरान जब नियमित सरकारी स्वास्थ्य कर्मी और लोग छूने तो दूर, बोलने से परहेज़ कर रहे थे, उस समय संविदा पर बहाल एएनएम व वेरिफायर्स अस्पताल से दवा लेकर घर-घर जाकर वैकसीनेशन कार्य को बखूबी से कर अपने जिन्दगी की परवाह न करते हुए लोगों की सेवा देने का कार्य तन और मन से किया। सरकार के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने संविदा पर बहाल किया और हमलोगों को बगैर पूर्व सूचना दिए हटा दिया गया है।
सत्यापन कर्ताओं ने बताया मानदेय भी नही दिया गया है।जिससे हम सभी भुखमरी के कगार पर हैं। जान पर खेलकर क्षेत्र में घर-घर जाकर वैकसीनेशन कार्य किया। 5 महीनों के कार्य करने बाद मानदेय भुगतान भी नहीं किया गया और हटा दिया गया है। जिससे हमलोग बेरोजगार हो गये हैं।
उन्होने बताया कि हम लोगों के सेवा को पुनः बढ़ाकर कार्य पर रखने के साथ बकाया मानदेय भुगतान किया जाए, नहीं तो हम सभी बेरोजगार युवक-युवतियां आन्दोलन करने को बाध्य हो जाएंगे।