जमुई : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मानित हुए रक्तदाता, थैलीसीमिया बच्चे बने अतिथि - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, 9 March 2022

जमुई : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मानित हुए रक्तदाता, थैलीसीमिया बच्चे बने अतिथि

 


जमुई (Jamui), 8 मार्च : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) के खास मौके पर सदर अस्पताल, रक्त केंद्र, जमुई में प्रबोध जन सेवा संस्थान (मानव रक्षक रक्तदाता परिवार/मेडिको मित्र/फ्री लीगल एड) की ओर से रक्तदान शिविर (Blood Donation Camp) का आयोजन मंगलवार को किया गया। 


इस रक्तदान शिविर के  मुख्य अतिथि के तौर पर थैलेसीमिया पीड़ित कई बच्चे रहे जिन्हें अंग वस्त्र देकर संस्थान सहयोगियों ने सम्मानित किया तथा इस रक्तदान शिविर में 16 यूनिट ब्लड डोनेट किया गया जिसमें सभी रक्त वीरों को "प्रबोध जन सेवा संस्थान" की ओर से सम्मानित अतिथि के रूप में थैलीसीमिया पीड़ित बच्चे व बच्चियों ने रक्तवीरों को प्रशस्ति पत्र व लाल गुलाब देकर सम्मनित किया।



 रक्त की कमी किसी को भी हो सकती है और इसकी जरूरत किसी को भी पड़ सकती है इस को ध्यान में रखते हुए संस्थान के द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया जिसमें जमुई जिले के युवाओं द्वारा रक्तदान किया गया जिसमें 13 रक्तवीरों ने पहली बार रक्तदान किया यह रक्तदान शिविर एक तरह का जन जागरूकता शिविर भी रहा जिससे कि लोगों को यह जानकारी हो कि रक्तदान से किसी तरह का कमजोरी या परेशानी नहीं होती है और रक्तदान एक स्वस्थ आदमी को और स्वस्थ बनाता है। जिस तरह हम लोग गाड़ी का मोबिल बदलते है तो गाड़ी का माइलेज बढ़ जाता है उसी प्रकार रक्तदान करने से शारीरिक ऊर्जा में बढ़ोतरी होती है। हम लोग के शरीर में नए रक्त बनने का प्रक्रिया प्रारंभ होता है। 



इस शिविर के आयोजक प्रबोध जन सेवा संस्थान के संयोजक और रक्तदान के क्षेत्र में पिछले 10 वर्षों से रक्तदान जागरूकता के लिए काम कर रहे सामजिक कार्यकर्त्ता व संस्थान सचिव सुमन सौरभ ने बताया की आज महिला दिवस के अवसर पर प्रबोध जन सेवा संस्थान की और से 16 यूनिट ब्लड सदर अस्पताल में दिया गया उन्होंने ने बताया कि इस रक्तदान शिविर के आयोजन का मुख्य उद्देश्य महिलाओं के प्रति हम लोग का सम्मान प्रदर्शित करना है और जो महिला किसी भी कारणवश खून की कमी से मर जाती हैं या उनको परेशानी का सामना ना करना पड़े।



 जिले से सहयोगी हरे राम कुमार, ऋषभ भारती, सौरभ कुमार मिश्रा व सचिन कुमार ने रक्तदान कैम्प कि अगुआनी कि जिसमें रक्तदान करने वाले पुरसोत्तम कुमार, सचिराज पद्माकर,रणधीर कुमार,जय कृष्णा राव, रणवीर प्रसाद, धर्मेंद्र कुमार, प्रताप कुमार, विश्वजीत कुमार, गुलशन सिंह, विश्वजीत कुमार सिंह, नितीश कुमार, प्रेम कुमार, पिंटू कुमार आदि युवाओं ने रक्तदान किया।


Post Top Ad