Breaking News

अलीगंज : योगीचक गांव में घरों तक नहीं पहुंच रहा नल से जल, रास्ते में ही कई जगह पाईप में लीकेज

अलीगंज/जमुई (Aliganj/Jamui), 19 फरवरी :
◆ रिपोर्ट : चंद्रशेखर सिंह
मुख्यमंत्री सात निश्चय योजनाओं में सबसे महत्वाकांक्षी योजना घर -घर नल से जल पहुंचाने की योजना प्रखंड के अधिकांश पंचायतों में टाँय - टाँय फिस होकर रह गई है। प्रखंड के कैयार पंचायत के वार्ड नम्बर 5 योगीचक गांव में पानी टंकी बनने के बाद लगा था कि पेयजल की समस्या दूर हो जाएगी। पानी टंकी बनने के बाद सभी घरों में नल लगाया लेकिन घरों में लगे नल से पानी नहीं गिरकर सभी रास्ते में बह जा रहा है। जिससे बने पक्की सड़क भी टूट रहा है और सडकों पर खुलेआम पानी दिन - रात बह रहा है।

ग्रामीण उपेन्द्र सिंह, अर्जुन सिंह, डब्लू सिंह, संजीत कुमार, कुन्दन कुमार, जूगडी मांझी, रबिया देवी, कारू मांझी, ढिको राम, रामू मांझी, करजिया देवी, हुनर मांझी सहित दर्जनो लोगों ने बताया कि घरों तक पानी पहुंचने से पहले दी दम तोड़ दिया है। शिकायत के बाद भी संवेदक के द्वारा पाईप ठीक नही कराया जा रहा है।जिससे सड़क किनारे खेतों में लगे गेहूं फसल में पानी भर गया है।जिससे बीघा भर जमीन में पानी जमाव होकर तालाब बन गया है और ग्रामीण पेयजल के लिए मोहताज हैं।
 समाजसेवी सह अधिवक्ता शशि शेखर सिंह मुन्ना ने कहा कि सरकार के महत्वकाक्षी योजना है। लेकिन कमीशनखोरी और घटिया सामग्री के प्रयोग से नल का जल घरों तक नहीं पहुंच पा रहा है। इसकी लिखित शिकायत पीएचईडी मंत्री बिहार सरकार एवं जमूई जिलाधिकारी से की गई है।

ग्रामीणों ने जिलाधिकारी संवेदक की मनमानी व घटिया सामग्री के प्रयोग किये जाने की शिकायत किया है और अविलंब जांच कर दोषी संवेदक पर कारवाई की मांग किया है। ग्रामीणों ने बताया कि इस समस्या से वार्ड वासी काफी दिनों से परेशान है और शिकायत के बाद भी संवेदक सुधार तो दूर देखने तक नहीं आया है। पानी सडकों पर खुले में बह कर बर्बाद हो रहा है। ग्रामीण पानी के लिए इधर उधर भटक रहे हैं।
ग्रामीणों ने बताया कि अगर जल्द से जल्द समस्याओं को दूर नही किथा गया तो हमलोग आन्दोलन करने को बाध्य हो जाएंगे।