यूपी में चुनाव! प्रचार का बिगुल फूंकने पहुंच रहे बिहार के नेता, दिग्गज भी बना रहे चुनावी योजना - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Monday, 7 February 2022

यूपी में चुनाव! प्रचार का बिगुल फूंकने पहुंच रहे बिहार के नेता, दिग्गज भी बना रहे चुनावी योजना

पटना (Patna), 7 फरवरी : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में हो रहे विधानसभा चुनाव (UP Elections) में अब मतदाताओं को रिझाने के लिए बिहार (Bihar) के नेता भी यूपी पहुंचने लगे हैं। बिहार में भाजपा (Bharatiya Janata Party) के साथ सरकार में शामिल जनता दल (युनाइटेड) (Janata Dal United) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) (Vikashseel Insan Party) यूपी में अकेले चुनाव मैदान में उतरे हैं। यही कारण है कि जदयू (JDU) और वीआईपी के कई वरिष्ठ नेता यूपी में मौजूद हैं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) भी यूपी चुनाव के लिए स्टार प्रचारक सूची में शामिल हैं, ऐसे में तय है मुख्यमंत्री भी लोगों को अपनी पार्टी के लिए वोट मांगते नजर आएंगे। माना जाता है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के वर्चुअल चुनाव प्रचार की तैयारी में हैं।

जदयू नेताओं का उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनावी दौरे का कार्यक्रम 17 फरवरी के बाद तय होगा। फिलहाल पार्टी की तरफ से उम्मीदवारों के नामांकन की तैयारी की जा रही है।

बिहार में 15 वर्षों तक सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनता दल (राजद) यूपी चुनाव में अपने प्रत्याशी नहीं उतारे हैं, लेकिन कहा जा रहा है कि राजद के नेता तेजस्वी यादव समाजवादी पार्टी के समर्थन में चुनाव प्रचार के लिए लखनऊ जा सकते हैं।

यूपी चुनाव को लेकर बिहार भाजपा (Bihar BJP) के नेताओं में खासा उत्साह है। बिहार के कई नेता यूपी में कैंप किए हुए हैं।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल (Dr Sanjay Jayaswal) ने बताया कि संगठन से जुड़े बिहार के पदाधिकारी पहले ही यूपी सहित अन्य चुनावी राज्यों में कैंपेनिंग कर रहे हैं। यूपी चुनाव को लेकर हमारा फोकस बिहार से जुड़े पूर्वांचल के 10 जिलों में है। इसके लिए बिहार की एक टीम यूपी कूच करेगी।

वीआईपी के नेता और बिहार के मंत्री मुकेश सहनी (Mukesh Sahani) सहित पार्टी के कई नेता यूपी में मौजूद हैं और लगातार चुनाव प्रचार में जुटे हैं।

बिहार के वामपंथी दल के नेता भी बिहार से सटे यूपी के इलाकों में प्रचार करने के लिए जाने वाले हैं। बताया जा रहा है सीमावर्ती क्षेत्र की जिम्मेदारी बिहार के नेताओं को दी गई है

Post Top Ad