गिद्धौर : छठ महापर्व के दूसरे दिन खरना संपन्न, पहली बार पर्व कर रहीं व्रतियों में जबरदस्त उत्साह

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 9 नवंबर | सुशान्त साईं सुन्दरम : जन आस्था एवं सूर्योपासना के चार दिवसीय महापर्व छठ के दूसरे दिन मंगलवार को खरना संपन्न हुआ। छठ व्रतियों ने खीर, रोटी, केला का भोग लगाकर प्रसाद ग्रहण किया। परिवार और सुधीजनों के बीच प्रसाद का वितरण किया गया।

खरना के साथ ही व्रतियों के 36 घण्टे का निर्जला व्रत आरंभ हो गया। इसके बाद व्रती व्रत पूरा होने तक अन्‍न-जल कुछ भी ग्रहण नहीं करते हैं। बुधवार की शाम सभी व्रती अस्‍ताचलगामी सूर्य को पहला अर्घ्‍य और गुरुवार की सुबह उदीयमान सूर्य को दूसरा अर्घ्‍य देने के बाद पारण करेंगे।
पहली बार छठ व्रत करने वाली व्रतियों में जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है। पहली बार छठ कर रहीं रेशम सिंह ने बताया कि उनकी सास छठ किया करती थीं। बाद में अस्वस्थता के कारण अन्यत्र पूजा करवाने लगे। अब जाकर घर में पुनः छठ पर्व की शुरुआत हुई है। परिवार के स्वास्थ्य, संपन्नता और वैभव की कामना के साथ पर्व उठाये हैं। छठ का पर्व आस्था का पर्व माना जाता है। अब छठ मईया ही पार लगाएंगी।

विदित हो कि छठ महापर्व शुद्धता व सात्विकता का त्योहार है। इसमें साफ-सफाई और शुद्धता का विशेष ध्यान रखा जाता है। इसे लेकर गलियों और सड़कों की साफ-सफाई स्थानीय निवासियों के आपसी सहयोग से किया गया।

Post a Comment

Previous Post Next Post