Breaking News

झाझा : मानिकथान एवं बखौरीबथान में पुनः मतदान केंद्र बनाने को लेकर पदाधिकारियों को भेजा ज्ञापन

झाझा/जमुई (Jhajha/Jamui), राजीव रंजन [Edited by: Sushant] : दो बूथों को पुनः मूल स्थान पर स्थानांतरित करने को लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारियों को ज्ञापन भेजा गया है. सरकार की सबसे बड़ी जिम्मेदारी  होती है पक्षपात रहित एवं भयमुक्त चुनाव कराने की. इसे लेकर पंचायत चुनाव में हर वार्ड में मतदान केंद्र की व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए.

झाझा प्रखंड अंतर्गत बोड़वा पंचायत के वार्ड संख्या 8 एवं 9 मानिकथान एवं बखौरीबथान का मतदान केंद्र पुनः स्थानांतरित करने के संबंध में ग्रामीणों ने राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव, जमुई जिला पदाधिकारी, झाझा प्रखंड विकास पदाधिकारी सह प्रखंड निर्वाचन पदाधिकारी एवं झाझा थानाध्यक्ष को ज्ञापन भेजा है.

मतदान केंद्र पुनः स्थानांतरित करने के संबंध में ग्रामीण बड़कू मरांडी, नंदलाल यादव, कमलेश्वर यादव, तपेश्वर यादव, संग्राम मरांडी, दामोदर यादव, उप मुखिया सुगिया देवी सहित सैकड़ों लोगों ने हस्ताक्षर कर आवेदन दिया.

ग्रामीणों का कहना है कि वर्ष 2001 तक मानिकथान सामुदायिक भवन एवं प्राथमिक विद्यालय बखौरीबथान में मतदान केंद्र हुआ करता था. जिससे यहाँ के मतदाता शत-प्रतिशत मतदान करते  थे. लेकिन वर्ष 2001 के बाद किन्हीं कारणों से उपरोक्त दोनों मतदान केन्द्रों को मध्य विद्यालय बोड़वा में हस्तांतरित कर दिया गया.

ग्रामीण लिलो यादव ने बताया कि इन दोनों बूथों का अपने मूल स्थान से परिवर्तन हो जाने के बाद कभी भी 15% से अधिक मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग नहीं किया. कारण यह है कि उक्त दोनों गांवों से मतदान केंद्र की दूरी लगभग 9 किलोमीटर से अधिक है. ऐसे में वृद्ध एवं किसान वर्ग के लोग उक्त मतदान केंद्र पर नहीं पहुंच पाते हैं. दोनों बूथों के मतदाता हमेशा मतदान करने से वंचित रह जाते हैं. ग्रामीणों ने मतदान की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए इस बार फिर डीएम सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी से लेकर राज्य निर्वाचन आयोग तक से गुहार लगाई है.