जमुई : परिवार नियोजन मेला लगा कर दी गई जानकारी, बंध्याकरण का हुआ रजिस्ट्रेशन - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Tuesday, 21 September 2021

जमुई : परिवार नियोजन मेला लगा कर दी गई जानकारी, बंध्याकरण का हुआ रजिस्ट्रेशन


जमुई (Jamui), 21 सितंबर : परिवार नियोजन दिवस के मौके पर मंगलवार को स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खैरा परिसर में परिवार नियोजन मेला लगाया गया. इस दौरान लोगों को परिवार नियोजन की जानकारी दी गई तथा बंध्याकरण के लिए रजिस्ट्रेशन कराया गया. कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अभिजीत आलोक तथा प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक गिरीश कुमार ने संयुक्त रूप से किया.

मौके पर शिविर लगाकर महिलाओं एवं पुरुषों के बीच परिवार नियोजन के अस्थाई तरीके से संबंधित सामग्रियों का वितरण किया गया  इस दौरान लोगों के बीच निरोध, माला एन, छाया, अंतरा, कॉपर-टी आदि का वितरण किया गया. जबकि स्थाई नियोजन को लेकर महिलाओं के बंध्याकरण का रजिस्ट्रेशन भी किया गया.

मौके पर जानकारी देते हुए बताया कि परिवार नियोजन को लेकर लोगों को काफी सजग रहने की आवश्यकता है. दो बच्चों के बीच कम से कम 3 साल का अंतर अवश्य होना चाहिए. इसके अलावा ग्रामीण इलाकों में देखा जाता है कि कम उम्र में लड़कियों की शादी कर देने के बाद वह कम उम्र में ही गर्भावस्था को धारण कर लेती है जो उनके शारीरिक विकास में बाधक बनता है. ऐसे में काफी आवश्यक है कि एक सही उम्र में ही महिलाओं को गर्भ धारण करना चाहिए.

चिकित्सकों ने यह भी बताया कि परिवार नियोजन के दो तरीके मौजूद है. जिसमें एक अस्थाई तथा एक स्थाई तरीका है. अनचाहे गर्भधारण को रोकने के लिए लोग अस्थाई तौर तरीकों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. जिसमें निरोध, माला-एन, कॉपर-टी, छाया आदि उपलब्ध है. जबकि स्थाई परिवार नियोजन के लिए बंध्याकरण करा सकते हैं. इसे लेकर समय-समय पर शिविर लगाकर अस्पताल में बंध्याकरण किया जाता है. उन्होंने बताया जनसंख्या नियंत्रण को लेकर परिवार कल्याण विभाग के द्वारा कई सारी योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिसमें बंध्याकरण काफी महत्वपूर्ण है.

उन्होंने कहा कि लोगों को जागरूक होना होगा और परिवार कल्याण के तौर-तरीकों को इस्तेमाल में लाना होगा. इससे ना सिर्फ समाज बल्कि पारिवारिक रूप से भी उनका विकास समृद्धशाली तरीके से किया जा सकता है.

मौके पर केयर इंडिया के मो. एफए रिजवी, सामुदायिक स्वास्थ उत्प्रेरक मो. सोहराब अली, आईसीटी नमित कुमार मिश्रा, सीबीसी केयर सुबोध कुमार, संतोष कुमार, स्वास्थ्य कर्मी विजय कुमार मिश्रा, उमा शंकर ठाकुर, एएनएम सुनीता कुमारी, मंजू सिन्हा सहित अन्य लोग मौजूद रहे.

Post Top Ad