Breaking News

जमुई: बाल श्रमिक स्कूल के कर्मियों के लंबित मानदेय को लेकर बैठक आयोजित


Jamui / जमुई :- जिले के अंतर्गत बाल श्रमिक परियोजना कार्यालय के प्रांगन में बाल श्रमिक विद्यालय के शिक्षकों एवं शिक्षकेतर कर्मियों की बैठक एनजीओ संजय कुमार बबलू एवं अर्जुन सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में बाल श्रमिक विद्यालय के शिक्षकों की दयनीय दशा पर चर्चा करते हुए शिक्षक नेता विनोद कुमार ने बताया कि नए विद्यालय कर्मियों के पिछले 18 माह व पुराने विद्यालय कर्मियों का लगभग 44 माह का शिक्षकों को मानदेय नही मिलने से बाल श्रमिक शिक्षकों के समक्ष भुखमरी की नौबत आ गयी है। हालत यह है कि अधिकांश शिक्षक महाजनों के चंगुल में फंस चुके हैं। भुगतान को लेकर जिले के उप विकास आयुक्त एवं जिला बाल श्रमिक परियोजना अधिकारी से भी मिल चुके है लेकिन अबतक मानदेय भुगतान की कोई पहल नही हुई है। इस दौरान एनजीओ ने कहा कि हम सभी एनजीओ आपके साथ हैं, आप लोगों का बकाया मानदेय को लेकर भुगतान कराने में सहयोग करेंगे इस पर सभी संस्था संचालकों ने सहमति प्रदान की। वही इस मौके पर सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि बाल श्रमिक विद्यालय के शिक्षक, शिक्षिका, लेखा लिपिक समेत अन्य कर्मियों ने सरकार के द्वारा बाल श्रमिकों के हित में चलाये जा रहे इस योजना में वर्षो से अधिक समय से इस योजना से जुड़कर अपना बहुमूल्य वक्त झोंक दिया है। अगर सरकार के द्वारा बाल श्रमिक शिक्षकों एवं शिक्षकेत्तर कर्मियों के हितार्थ जल्द ही ठोस निर्णय नही लिया गया तो संघ के द्वारा जोरदार आंदोलन चलाया जायेगा। अगर जल्द ही मानदेय भुगतान नही हुआ तो सभी बाल श्रमिक शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मी अपने परिवार वालों के साथ कटोरा लेकर सरकार के विरूद्ध सड़क पर उतर जाएंगे। मौके पर जिलाध्यक्ष विनोद कुमार, नुरो पासवान, अरविंद कुमार, बिट्टू कुमार पासवान, शबनम कुमारी, बीणा कुमारी, नीतू कुमारी, रजिया खातून आदि बाल श्रमिक कर्मचारी मौजूद थे।