Breaking News

जमुई : बाल सुधार गृह से फरार हुए 05 बाल कैदी, प्रसाशनिक महकमे में हड़कंप

Jamui/जमुई (Gidhaur.com) :-   गुरुवार की देर संध्या खैरा-जमुई मुख्य मार्ग पर बाल सुधार गृह से 05 बाल कैदियों के फरार होने के बाद पूरे प्रशासनिक अमले में हड़कंप मचा है। बताया जा रहा है कि फरार हुए पांचों बाल कैदी एक ही जुर्म में लाए गए थे और लंबे समय से उन्हें बाल सुधार गृह में रखा गया था।

दरवाजे पर पुलिस बल व जवान  ◆ gidhaur.com

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सभी बाल कैदी पीछे के रास्ते फरार हुए। घटना के करीब 2 घंटे बाद ड्यूटी पर तैनात जवानों को इस बात की भनक लगी, जिसके बाद इस मामले में छानबीन शुरू की गई है। बताया जाता है कि, बाल सुधार गृह में रखे गए 5 बाल कैदी उस वक्त फरार हो गए जब उन्हें खेलने के लिए बाहर निकाला गया था और दोबारा उन्हें उनके सेल में भेजा जा रहा था। मामले की पुष्टि पुलिस पदाधिकारियों के द्वारा की गई है। घटना की सूचना पाकर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी. डॉ राकेश कुमार, सदर थानाध्यक्ष चंदन कुमार सहित कई वरीय पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंच  जांच में जुट गए । यह भी बता दें कि फरार हुए सभी बाल कैदी बाइक चोरी की घटना में लाए गए थे, जिनमें से चार जमुई सदर थाना क्षेत्र जबकि एक खैरा थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। फरार हुए कैदियों के बारे में कोई विस्तृत जानकारी नहीं मिल सकी है। इसके अलावा यह भी बता दें कि वर्तमान समय में बाल सुधार गृह में दस के करीब बाल कैदियों को रखा गया था, जिनमें से पांच के एक साथ फरार हो जाने के बाद प्रशासनिक चूक उजागर हुई है। सूत्रों के मुताबिक, बाल सुधार गृह में हर वक्त एक दर्जन से अधिक जवान के तैनात रहने के निर्देश हैं, लेकिन ऐसा नहीं होता है, जिस कारण सभी बाल कैदी फरार होने में कामयाब रहे।

मीडियाकर्मियों से मुख़ातिब होते SDPO डॉ. राकेश कुमार। ◆ gidhaur.com

इस बाबत पूछे जाने पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है तथा इस पूरे मामले में छानबीन की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले में जिस किसी भी पदाधिकारी की चूक सामने आएगी उन पर कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया है कि जल्दी ही उन कैदियों को गिरफ्तार भी कर लिया जाएगा । वहीं , चाइल्ड वेलफेयर ऑफीसर मनोज कुमार ने बताया फरार हुए सभी बाल के अभी स्थानीय थाना क्षेत्र के ही रहने वाले हैं तथा उनकी गिरफ्तारी को लेकर सर्च अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें सदर थाना के जवानों को भी शामिल किया गया है। बहरहाल इस पूरे मामले में एक बार फिर से बड़ी पुलिसिया चूक सामने आई है, जिसमें पूरी जांच कर प्रतिवेदन वरीय पदाधिकारियों को भेजी जाएगी।


Input : प्रहलाद कुमार, gidhaur.com

#Jamui, #Police, #GidhaurDotCom