Breaking News

गिद्धौर : BPNPSS के प्रदेश अध्यक्ष का प्रयास दे रहा परिणाम, न्यायादेश से आश्रितों में जगी आश

 【 न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :-

बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ 

(BPNPSS)  के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह (Anand Kaushal Singh)  द्वारा हाई कोर्ट में कोरोना से मृत शिक्षकों के मामले में दायर किये गए जनहित याचिका में पारित न्यायादेश से आश्रितों में न्याय की आश जगी है । इस संदर्भ में हाई कोर्ट, पटना ने तीन माह के अंदर निर्णय लेने का निर्देश सरकार को दिया है। 


ज्ञात हो, कोरोना (Corona) काल में डियूटी के दौरान लगभग एक हजार शिक्षकों की मौत पर पीड़ित परिवार को न्याय दिलवाने के लिए शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह द्वारा संघ सड़क से सदन और सदन से न्यायालय तक का संघर्ष जारी है। 

प्रदेश अध्यक्ष आनन्द कौशल सिंह ने बताया कि कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान कोरोना ड्यूटी व स्कूली कार्यों का निष्पादन करते हुए अनेकों शिक्षक कोरोना से संक्रमित हुए और इलाज के दौरान अथवा इलाज के पूर्व ही मृत्यु को प्राप्त हुए हैं। इसलिए सरकार अविलंब माननीय हाई कोर्ट पटना के द्वारा आनंद कौशल सिंह बनाम भारत सरकार व अन्य (CWJC संख्या 6210 / 2020) रिट याचिका में पारित न्यायादेश पर विचार करते हुए कोरोना से मृत शिक्षकों के आश्रित परिवार को 50 लाख रुपया मुआवजा, नौकरी, बिशेष पारिवारिक पेंशन आदि देने की घोषणा करें । 

प्रदेश अध्यक्ष श्री सिंह ने इस महत्वपूर्ण याचिका को मजबूती से माननीय हाई कोर्ट के समक्ष रखकर न्यायादेश पारित करवाने के लिए अधिवक्ता मृत्युंजय कुमार के प्रति हृदय से आभार प्रकट किया है।