Header Ad

header ads

जमुई की सड़कों पर कॉंग्रेस कार्यकर्ताओं ने मूल्य वृद्धि के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

 

Jamui / जमुई (News Desk) :- बिहार प्रदेश कांग्रेस के निर्देशानुसार केंद्र सरकार के द्वारा डीजल और पेट्रोल के दामों में बेतहाशा मूल्य वृद्धि के खिलाफ जिला कांग्रेस की ओर से विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद, डीजल- पेट्रोल का दाम कम करो , नरेंद्र मोदी अपने पद पर से इस्तीफ़ा दो का नारा लगाया। जिला कांग्रेस अध्यक्ष हरेंद्र कुमार सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि हमलोगों का प्रदर्शन पूरे देश में हो रहा है। जनता के अधिकार के लिए हमलोग यह लड़ाई लड़ रहे हैं। हमारी मांग केंद्र सरकार से है कि बेतहाशा महँगाई बढ़ रही है,उसे कम करें।नहीं तो हम सभी कांग्रेस कार्यकर्ता मिलकर सोनिया व राहुल , मदन मोहन झा व समीर कुमार सिंह के साथ - साथ भक्त चरणदास के नेतृत्व में आंदोलन करने को उतारू हो जाएंगे। किसी भी सूरत में जनता के अधिकार के लिए जनता के हक के लिए गरीब और किसान के हक के लिए हमलोग लड़ाई लड़ने को तैयार हैं और सड़क पर उतर चुके हैं।किसी भी सूरत में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को डीजल और पेट्रोल में बेतहाशा बढ़ोतरी को वापस लेना होगा। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी में जरा सा भी नैतिकता बचा हुआ है तो उन्हें अपने पद से त्यागपत्र दे देना चहिए।देश की जनता इस महंगाई से त्राहिमाम कर रही है। यह लड़ाई किसानों और गरीबों के हक के लिए है।  


मौके पर महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष सह वार्ड कमिश्नर देवी कुमारी, जिला उपाध्यक्ष दिवाकर सिंह, सुधीर सिंह , सज्जन सिंह, प्रधान महासचिव निवास सिंह, कांग्रेस नेता प्रमोद मंडल, प्रदेश के पूर्व सचिव देवेंद्र सिंह, किसान नेता धीरेंद्र सिंह, महासचिव जयदेव सिंह, जिला दलित प्रकोष्ठ अध्यक्ष धर्मेंद्र पासवान, नितेश्वर आजाद, फजल अहमद, जिला युवा ब्रिगेड अध्यक्ष शहंशाह, शक्ति एप अध्यक्ष नंदू कुमार, अशोक दास, कुमार गंधर्व, प्रवक्ता सदानंद सिन्हा, सुनील सिंह, अनिल सिंह, चकाई अध्यक्ष मनोज कुमार, अनिल कुमार, रामानुज सिंह, विनोद शाह, रामाश्रय सिंह, अति पिछड़ा अध्यक्ष सुनील कुमार, मक्केश्वर यादव, उदय शंकर झा, युवा कांग्रेस अध्यक्ष पवन पासवान, कुमार प्रिंस, उत्तम कुमार, मिथुन राम, ब्रह्मदेव पासवान, चिंता देवी , नसीम खातून, कमल झा, संजय कुमार चंद्रवंशी, रवीन्द्र बाजपेई, रमेश मिश्रा समेत दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।