Breaking News

जमुई : जिला प्रभारी मंत्री ने अधिकारी व MLA के साथ की वर्चुअल बैठक, कोविड नियंत्रण पर हुई चर्चा


Jamui / जमुई (बिभूति भूषण) :-


राज्य सरकार के भवन निर्माण  सह- जिला प्रभारी मंत्री अशोक चौधरी की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जमुई जिले में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा किए उपायों, टीकाकरण, टेस्टिंग सहित आधारभूत संरचनाओं को लेकर समीक्षात्मक बैठक हुई। सर्वप्रथम जिलाधिकारी  अवनीश कुमार सिंह ने वर्चुअल बैठक में उपस्थित  भवन निर्माण मंत्री सह प्रभारी मंत्री अशोक चौधरी,  मंत्री विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी  सुमित कुमार सिंह,  विधान परिषद सदस्य  संजय प्रसाद,  विधायक जमुई विधानसभा क्षेत्र  श्रेयसी सिंह,  विधायक सिकंदरा विधानसभा क्षेत्र  प्रफुल्ल मांझी,  विधायक झाझा विधानसभा क्षेत्र  दामोदर रावत का स्वागत किया गया।


   जिलाधिकारी श्री सिंह के द्वारा जमुई जिला अंतर्गत कोविड-19 से संबंधित महत्वपूर्ण इंडिकेटर को विस्तार में बताया गया। जिलाधिकारी द्वारा माननीय प्रभारी मंत्री  को बताया गया कि जमुई जिले में उनके द्वारा स्वयं एवं उप विकास आयुक्त के द्वारा लगातार कोविड केयर सेंटर एवं डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया जाता है ,जहां ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। सिविल सर्जन को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी परिस्थिति में ऑक्सीजन एवं दवाओं की कमी ना हो। दबा दुकानों का नियमित रूप से निरीक्षण एवं दवाओं की जांच की जाती है। लॉकडाउन के उल्लंघन के मामले में कई दुकानों को सील किया गया है।  9 से 19 मई 2021 तक कुल 23000  से अधिक सैंपल लिए गए हैं।  ग्रामीण क्षेत्रों में भी पॉजिटिविटी रेट बहुत कम रह गई है। जमुई जिले में होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की संख्या 730 है। कोविड-19 सेंटर महुलीगडढ़ गिद्धौर में भर्ती मरीजों की संख्या 7 एवं कोविड-19 सेंटर जमुई में भर्ती मरीजों की संख्या 26 है। ऑक्सीजन की उपलब्धता को लेकर जिलाधिकारी के द्वारा बताया गया कि छोटे सिलेंडरों की संख्या 325 एवं बड़े सिलेंडरों की संख्या 120 है। जमुई जिले में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की संख्या 69 है।

     लॉकडाउन के अनुपालन के संदर्भ में जिलाधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन के अनुपालन करवाने हेतु जिला अंतर्गत कुल 54 दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। मास्क नहीं पहनने वाले व्यक्तियों पर कुल 4 लाख19 हजार 600 का जुर्माना किया गया।जिलाधिकारी ने बताया  कि जिला अंतर्गत 10 प्रखंडों में कुल 13 सामुदायिक रसोई का संचालन किया जा रहा है। जहां सरकार द्वारा प्रभावी लॉकडाउन की अवधि में निर्धन निराश्रित निशक्त एवं जरूरतमंद लोगों को निशुल्क भोजन की व्यवस्था उपलब्ध कराई गई है। जमुई जिला अंतर्गत संचालित सभी 13 सामुदायिक रसोई में भोजन करने वाले व्यक्तियों की संख्या अब तक 12229 है। सरकार के निर्देश के आलोक में टीकाकरण का कार्य निरंतर जारी है एवं समय-समय पर  मंत्री विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी सुमित कुमार सिंह एवं अन्य  विधायकों के सलाह के आधार पर जिले में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने हेतु लगातार कदम उठाए जा रहे हैं।

 विधायक झाझा विधानसभा क्षेत्र  दामोदर रावत के द्वारा  प्रभारी मंत्री  को बताया गया कि झाझा में सामुदायिक रसोई में लोगों के खाने की व्यवस्था बहुत अच्छी है। इसी प्रकार  मंत्री विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग  सुमित कुमार सिंह के द्वारा बताया गया कि सामुदायिक रसोई की व्यवस्था संतोषप्रद पाई गई। कल उनके द्वारा चकाई के विभिन्न सामुदायिक रसोई का निरीक्षण किया गया था।  विधायक  श्रेयसी सिंह के द्वारा बताया गया कि जिलाधिकारी एवं एसडीएम के द्वारा सड़कों पर उतर कर लॉकडाउन के अनुपालन हेतु निरीक्षण का कार्य किया जाता है जो सराहनीय है।  विधायक जमुई  श्रेयसी सिंह के द्वारा  प्रभारी मंत्री से जमुई जिले में अबिलंब ऑक्सीजन प्लांट लगाने की दिशा में आवश्यक कार्रवाई करने की मांग की गई । 

  विधायक सिकंदरा विधानसभा क्षेत्र  प्रफुल्ल मांझी के द्वारा बताया गया कि कम्यूनिटी किचन की व्यवस्था संतोषजनक है लेकिन हॉस्पिटल में लैब टेक्नीशियन नहीं है।अलीगंज प्रखंड में डॉक्टर की कमी है ।डॉक्टर की उपयोगिता कराने हेतु आवश्यक कार्रवाई करने की मांग माननीय प्रभारी मंत्री से की गई।सभी  विधायकों के सलाह एवं सुझाव के आधार पर जिलाधिकारी  के द्वारा बताया गया कि जमुई जिला अंतर्गत कुल १३ कम्युनिटी किचन संचालित है। अलीगंज प्रखंड में डॉक्टर की उपलब्धता के लिए  प्रयास कर डॉक्टरों की कमी को समाप्त किया जाएगा।

        माननीय प्रभारी मंत्री सह  भवन निर्माण मंत्री बिहार सरकार श्री अशोक चौधरी के द्वारा बैठक को संबोधित करते हुए कहा गया कि कोविड-19 के संक्रमण के दौर में इस विषय पर हम लोगों की पहली वर्चुअल बैठक है इसके लिए सभी जनप्रतिनिधियों एवं पदाधिकारियों को धन्यवाद। हम लोग एक टीम की तरह कार्य कर रहे हैं और हेलो जब जिले की बात करें तो एक टीम के तरह कार्य करें। हम लोग चाहेंगे कि कोरोना जल्द से जल्द खत्म हो।

प्रभारी मंत्री  के द्वारा जमुई जिला अंतर्गत कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के ट्रेकिंग के लिए लांच ऐप HIT की स्थिति एवं प्रगति के बारे में जानकारी ली गई। जिला पदाधिकारी महोदय के द्वारा बताया गया कि जमुई जिला अंतर्गत सभी एएनएम को इस ऐप का प्रशिक्षण प्राप्त करा दिया गया है। इस ऐप के माध्यम से 74 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों का ट्रैकिंग कर उनका spo2 एवं टेंपरेचर की जांच की गई है। इस ऐप के मॉनिटरिंग हेतु प्रत्येक प्रखंड में दो-दो टीम गठित की गई है जिसका अनुसरण प्रखंड के वरीय (मेंटर) अधिकारियों के द्वारा किया जा रहा है।

    विधान पार्षद संजय प्रसाद के द्वारा सफाई विधानसभा क्षेत्र में वैक्सीनेशन की स्थिति की जानकारी ली गई जिस पर जिला पदाधिकारी महोदय के द्वारा एंटीजन टेस्ट, आर टी पी सी आर एवं टू नेट के बारे में किए गए टेस्ट की जानकारी विस्तृत रूप से दी गई।

     बैठक करते हुए माननीय प्रभारी मंत्री के द्वारा निर्देशित किया गया कि इस ऐप का प्रचार-प्रसार अधिक से अधिक करें। अधिक से अधिक लोगों की टेस्टिंग हो एवं मॉनिटरिंग हो। कम्युनिटी किचन में सुबह शाम एक पदाधिकारी को खाना की गुणवत्ता की जांच के लिए प्रतिनियुक्त किया जाए। 

    जिला पदाधिकारी द्वारा बैठक के अंत में व्यक्त किया गया कि आप सभी माननीयों के द्वारा जो भी सुझाव दिए गए उस पर यथाशीघ्र अमल किया जाएगा।  बैठक के अंत में  जिला पदाधिकारी  के द्वारा बैठक में उपस्थित सभी  मंत्री , विधायक ,  विधान पार्षद एवं सभी पदाधिकारियों का धन्यवाद ज्ञापन किया गया।