Breaking News

जमुई DM बोले, तूफान से बचने के लिए सजग और सचेत रहने की जरूरत

  


JAMUI / जमुई (न्यूज़ डेस्क) :- जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह ने कहा कि बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान " यास " का प्रभाव जमुई जिला में दिख रहा है। जिले में तेज हवाओं के साथ तेज बारिश जारी है। जिला प्रशासन इससे निपटने के लिए अलर्ट मोड में है। उन्होंने जिलावासियों से घर में रहने की अपील करते हुए कहा कि तेज हवा के साथ भारी वर्षा जन - जीवन के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। जिलाधिकारी श्री सिंह ने कहा कि भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार तूफान के दरम्यान तेज आंधी के साथ मूसलाधार बारिश हो सकता है। आसमान में बिजली चमकने के साथ वज्रपात भी होने की संभावना है। इसलिए आमजन घर में ही रहें , बेवजह बाहर नहीं निकलें। उन्होंने जमुई जिला में चक्रवाती तूफान " यास " का असर 27 से 30 मई तक रहने की संभावना प्रकट करते हुए कहा कि तेज आंधी और मूसलाधार बारिश के कारण बिजली आपूर्ति में बाधा उत्पन्न हो सकती है और इस दरम्यान घरों एवं फसलों को भी नुकसान पहुंच सकता है। उन्होंने जिला प्रशासन के सौजन्य से " यास " के मद्देनजर आमजनों को लगातार जागरूक किये जाने की बात - बताते हुए कहा कि जमुई एसडीएम , अंचलाधिकारी , विद्युत कार्यपालक अभियंता समेत अन्य अधिकारियों को विषम परिस्थिति से निपटने के लिए हमेशा सक्रिय और जागरूक रहने का निर्देश दिया गया है।जिलाधिकारी श्री सिंह ने चक्रवाती तूफान के मद्देनजर सभी सरकारी एवं निजी अस्पतालों के साथ तमाम पेट्रोल पंपों को भी अलर्ट मोड में रहने का निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना संक्रमितों समेत सभी प्रकार के रोगियों की हिफाजत के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है। उन्होंने सभी अस्पतालों और पेट्रोल पंपों को जेनरेटर का इंतजाम रखने का निर्देश देते हुए कहा कि विद्युत आपूर्ति में बाधा उत्पन्न होने पर इसके जरिये जरूरी कार्यों को निस्तारित किया जाएगा।चक्रवाती तूफान " यास " से निपटने के लिए जिला प्रशासन की ओर से सभी प्रकार के एहतियाती कदम उठाए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि नागरिकों के सकारात्मक सहयोग से ही इससे निपटने में कामयाबी हासिल हो सकेगी।


Edited by : Abhishek Kr. Jha


#Jamui, #Administration, #GidhaurDotCom